हमारी स्किन जैसे-जैसे बूढ़ी होती है वो अपनी इलास्टिसिटी खो देती है और उसी के साथ स्किन की बहुत सारी परेशानियां भी होने लगती हैं। ऐसे में झुर्रियां, झाइयां और ड्राई स्किन की समस्या आम है। जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, वैसे-वैसे स्किन का कोलेजन भी कम होने लगता है और एक समय में जो प्लम्प स्किन होती थी वो अब ढीली होने लगती है। 50 के बाद तो ये और भी ज्यादा हो जाता है और इसलिए हमें ऐसे प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल हमेशा करना चाहिए जिनमें एंटीऑक्सीडेंट भरपूर हों और जो स्किन का कोलेजन वापस बिल्ड कर सकें।

ऐसे प्रोडक्ट्स जो स्किन के लिए प्रोबायोटिक्स का काम करें और रेटिनॉल जैसे इंग्रीडिएंट्स भी उनमें मौजूद हों, लेकिन अगर हम बात करें प्रोडक्ट्स के टाइप की तो उनके बारे में आपका क्या ख्याल होगा?

यावना एस्थेटिक क्लीनिक की फाउंडर और डर्मेटोलॉजिस्ट डॉक्टर माधुरी अग्रवाल ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इससे जुड़े कुछ टिप्स शेयर किए हैं। माधुरी जी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर ये बताया है कि 50 से ऊपर उम्र वाली महिलाओं को क्या प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करने चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें- क्या आप जानते हैं सनस्क्रीन लगाने का सही तरीका क्या होता है?

1. क्रीमी फेस वॉश-

आपको ऐसा फेस वॉश इस्तेमाल करना चाहिए जो क्रीमी हो। ये स्किन की सफाई भी अच्छी तरह से करेगा और साथ ही साथ स्किन को नेचुरली प्लम्प बनाने में मदद करेगा।

ध्यान ये रखना है कि क्रीमी टेक्सचर वाले कुछ मॉइस्चराइजर स्किन को जरूरत से ज्यादा ड्राई कर देते हैं जो सही नहीं है। इसलिए क्रीमी लेकिन कम केमिकल वाले फेस वॉश चुनें।

skin care with anti ageing

2. सनस्क्रीन-

जब भी आप स्किन केयर की बात करें तो सनस्क्रीन का इस्तेमाल जरूर करें। ये हर उम्र के लोगों के लिए जरूरी है और अगर आपको लगता है कि बड़ी उम्र में इसकी जरूरत नहीं है तो ये गलत है। ये बढ़ती उम्र में सिर्फ स्किन को सनबर्न से नहीं बचाती है बल्कि ये आपकी स्किन कैंसर से सुरक्षा भी कर सकती है। बढ़ती उम्र में नेचुरल स्किन बैरियर खत्म होने लगते हैं और ऐसे में सनस्क्रीन एक बेहतर प्रोटेक्शन लेयर साबित हो सकती है।

3. एक्टिव इंग्रीडिएंट्स-

एंटीऑक्सीडेंट्स, रेटिनॉल और पेप्टाइड्स जैसे इंग्रीडिएंट्स अगर आपके स्किन केयर प्रोडक्ट में हैं तो ये आपकी ज्यादा मदद कर सकते हैं।

ये स्किन के कोलेजन को बेहतर कर सकते हैं और इसलिए ही इनका इस्तेमाल करना चाहिए। कोई एक एक्टिव इंग्रीडिएंट वाला प्रोडक्ट ही काफी होगा। आपको बहुत सारे इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं है।

anti ageing afte

इसे जरूर पढ़ें- 10 मिनट में हाथ हो सकते हैं सॉफ्ट, आजमाएं ये हैक्स 

4. क्रीमी मॉइस्चराइजर- 

50 की उम्र के बाद त्वचा अपना लचीलापन खो देती है और उसे नेचुरल तरीके से मॉइस्चराइज रखने के लिए कोई क्रीमी टेक्सचर वाला मॉइस्चराइजर चुनें। 

आप ऑयल बेस्ड मॉइस्चराइजर भी चुन सकते हैं जो स्किन को लंबे समय तक ड्राई होने से बचाएगा। ये जरूरी नहीं है कि आप महंगा मॉइस्चराइजर ही चुनें। कई बार सस्ता मॉइस्चराइजर भी काफी बेहतर हो सकता है और इसलिए ये जरूरी है कि आप अलग-अलग तरह के मॉइस्चराइज पैच टेस्ट करें और जो आपकी स्किन पर ज्यादा सूट कर रहा हो उसे ही अपनाएं। 

आप हमेशा ऐसा मॉइस्चराइजर चुनने की कोशिश करें जिसके इंग्रीडिएंट्स में विटामिन-ई, ग्लिसरीन और बॉडी ऑयल्स शामिल हों। 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Vanity Wagon (@vanitywagon)

 

5. एंटी-एजिंग प्रोडक्ट्स और बॉडी मॉइस्चराइजर- 

ऐसे प्रोडक्ट्स हमेशा आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं जो आपकी स्किन को एंटी-एजिंग लुक देने में मदद करेंग। नाइट टाइम स्किन केयर रूटीन भी इसके लिए अच्छा होगा। आपको ये ध्यान रखना है कि स्किन को जितना हो सके मॉइस्चराइज रखें ताकि आपकी स्किन में जो भी सैगिंग हो रही है वो कम हो सके। 

Recommended Video

अपनी स्किन के हिसाब से कोई अच्छी एंटी-एजिंग क्रीम या फेस पैक अपने लिए जरूर रखें। 

ये सारे टिप्स आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं, लेकिन अगर आपको किसी प्रोडक्ट को लेकर डाउट है तो हमेशा उसे टेस्ट जरूर कर लें या डॉक्टर से सलाह लें। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।