सफेद बालों की समस्या कई लोगों के लिए बहुत दुखदाई होती है। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें हर 15 दिनों में अपने बालों को रंगना होता है और अपने बालों को कलर करते समय उन्हें ये ध्यान रखना होता है कि कुछ ऐसा रंग न लगा लें जिससे बाल खराब हो जाएं। बालों में अमोनिया या अन्य कैमिकल युक्त कलर लगाना सही नहीं होता है क्योंकि इससे बाल खराब होने की गुंजाइश ज्यादा हो जाती है। कई लोगों को तो सिर में मेहंदी लगाना भी सूट नहीं करता है और ऐसे में उन्हें अन्य नेचुरल कलरिंग ऑप्शन्स सर्च करने चाहिए। 

नेचुरल कलरिंग ऑप्शन सर्च करने के लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं है क्योंकि कई फलों, सब्जियों और फूलों से भी बालों में बहुत अच्छा रंग लाया जा सकता है। ये नेचुरल ऑप्शन्स भले ही आपको थोड़े झंझट भरे लगें, लेकिन बालों के लिए होते बहुत अच्छे हैं और ये आपके फेवरेट ऑप्शन्स बन सकते हैं। आज हम आपको कुछ नेचुरल कलरिंग ऑप्शन्स बताने जा रहे हैं और साथ ही साथ हम आपको बताएंगे कि उन नेचुरल ऑप्शन्स से कैसा रंग आता है।

1. गाजर

कौन सा रंग - रेडिश-ऑरेंज

अगर आपको अपने बालों को रेडिश ऑरेंज रंग में रंगना है तो आप गाजर के रस का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक छोटा सा तरीका आजमाना होगा। 

क्या करें-

- सबसे पहले गाजर का जूस निकालें और उसे किसी कैरियर ऑयल जैसे नारियल या ऑलिव ऑयल के साथ मिक्स करें। 

- इस मिक्सचर को अपने बालों में अच्छे से लगाएं

- इसके बाद बालों को प्लास्टिक से रैप कर लें और कम से कम 1 घंटे तक ऐसे ही लगे रहने दें। 

बाल धोते समय करना है ये काम-

बालों को धोते समय एप्पल साइडर विनेगर का इस्तेमाल करें। यही प्रोसेस आप दो दिन लगातार कर सकते हैं अगर पहली बार में बालों का रंग बहुत स्ट्रॉन्ग नहीं आया है तो। 

gajar and beet hair color

इसे जरूर पढ़ें- बालों को मॉइश्चराइज करने के लिए तेल नहीं, इन चीजों का करें इस्तेमाल

2. बीट जूस

कौन सा रंग - डीप रेड या बरगंडी

बीट का इस्तेमाल वैसे भी रंगों के लिए किया जाता है। बीट जूस हमारे लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकता है अगर हम डीप रेड रंग चाहते हैं तो। ये बिलकुल नेचुरल है इसलिए हेयर ग्रोथ पर भी असर डालता है। 

क्या करें-

- सबसे पहले बीट का जूस निकालें

- इसे किसी एक्स्ट्रा वर्जिन कैरियर ऑयल के साथ मिक्स करें और अपने बालों में लगाएं। 

- अब इस मिक्सचर को 1 घंटे तक अपने बालों में लगे रहने दें। 

बाल धोते समय करना है ये काम-

बालों को धोते समय ठंडे पानी का प्रयोग करें और अगर शैम्पू करने का सोच रही हैं तो बहुत ही माइल्ड शैम्पू का इस्तेमाल करें। 

इसे जरूर पढ़ें- डैंड्रफ, बालों का झड़ना और खुजली जैसी स्कैल्प की समस्याओं को खत्म करेंगे ये DIY टिप्स  

beet hair color

3. तेजपत्ता

कौन सा रंग - डार्क ब्राउन और ब्लैक 

तेजपत्ता या सेज का पौधा भी बालों के लिए फायदेमंद हो सकता है और इससे रंग भी आ सकता है। इसके लिए आपको कुछ काम करना होगा और ये ध्यान रखना होगा कि तेजपत्ता बहुत ही धीमे काम करता है इसलिए आपको एक बार से अधिक ये करना पड़ सकता है।  

क्या करें- 

- 1 कप सूखे तेजपत्ते को करीब 30 मिनट तक पानी में उबालें। इसी के साथ, थोड़ी सी चाय की पत्ती भी मिलाएं। 

- इसके बाद उस पानी को ठंडा होने दें। 

- इसी पानी से सिर धोएं और ध्यान रखें कि सिर्फ पानी को बालों के ऊपर से डालना है शैम्पू नहीं करना है। जितने लंबे समय के लिए बालों से पानी निकाल सकती हैं निकालें। 

- इसके बाद अपने बालों में कोई सूखा कॉटन का कपड़ा लपेट लें। 

- अपने बालों में 1 घंटे तक ऐसे ही ये पानी रहने दें ताकि टिंट डेवलप हो।  

बाल धोते समय करना है ये काम- 

अपने साफ बालों में ही ये पानी डालें। शैम्पू पहले कर लें फिर तेज पत्ते वाला पानी डालें और फिर बालों को ऐसे ही सूखने दें। इससे बालों में काला टिंट डेवलप होने में समय लगता है।  

Recommended Video

कैसे लंबे समय तक चलेगा आपका नेचुरल रंग-  

नेचुरल हेयर कलर्स बालों से जल्दी फेड हो सकते हैं, लेकिन आपको कुछ खास चीज़ें करने की जरूरत है।  

1. अपने हेयर ड्रायर, स्ट्रेटनिंग आयरन, कर्लिंग आयर जैसे अन्य हीटिंग टू्ल्स का इस्तेमाल कम कीजिए। 

2. अगर आपको हीट स्टाइलिंग अप्लाई करनी ही है तो थर्मल प्रोटेक्टेंट का इस्तेमाल करें। 

3. हॉट शावर से बचें क्योंकि इससे समस्या बढ़ सकती है। 

4. आप कोशिश करें कि फिल्टर वाला पानी इस्तेमाल करें ताकि हार्ड वाटर से बाल नहीं धोने पड़ें।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।