खूबसूरत दिखना तो हर महिला की चाहत होती है, लेकिन खूबसूरत दिखने के लिए स्किन का अतिरिक्त ख्याल रखना पड़ता है। जब आप स्किन को पैम्पर करती हैं तो वह नेचुरली ग्लोइंग नजर आती है। लेकिन स्किन का ख्याल रखने से ज्यादा जरूरी होता है, उसका सही तरह से ख्याल रखना। कई बार ऐसा होता है कि हम स्किन की केयर तो करते हैं, लेकिन उसके लिए कुछ मिथ्स पर भरोसा करते हैं, जिसके कारण आपकी पूरी मेहनत पानी में चली जाती है। आपका पूरा समय यूं ही बर्बाद हो जाता है और स्किन की केयर करने का कोई लाभ आपको नहीं मिल पाता है। 

हो सकता है कि आप भी अपनी स्किन का ख्याल रखने के लिए कई जतन करती हों, लेकिन फिर भी आपको वह रिजल्ट ना मिल पाता हो, जिसकी आपको चाहत हो। कई बार बिना सोचे समझे कुछ ब्यूटी मिथ्स पर भरोसा करना स्किन पर भारी पड़ जाता है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे ही ब्यूटी मिथ्स के बारे में बता रहे हैं, जो आपकी स्किन के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं है और इसलिए आपको इन पर आंख मूंदकर भरोसा नहीं करना चाहिए-

मिथ 1-मॉइस्चराइजिंग क्रीम झुर्रियों को नहीं रोकती हैं।

clean face brunette Inside

सच्चाई- अमूमन महिलाएं अपने स्किन केयर रूटीन में कई तरह की क्रीम्स का इस्तेमाल करती हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि उनकी एक क्रीम सिर्फ एक ही काम के लिए है। मसलन, मॉइस्चराइजिंग क्रीम झुर्रियों को नहीं रोकती हैं। जबकि यह गलत है। वास्तव में, आज कई मॉइस्चराइजिंग क्रीम झुर्रियों की उपस्थिति से लड़ती हैं। बस आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली क्रीम में यूवी फिल्टर और एंटीऑक्सिडेंट युक्त विटामिन भी हों।

इसे जरूर पढ़ें:स्किन केयर से जुड़े इन 3 मिथ्‍स पर न करें भरोसा

मिथ 2- क्रीम्स को समय-समय पर बदलना बेहद जरूरी है।

woman applying face cream Inside

सच्चाई- कुछ महिलाओं को ऐसा भी लगता है कि जब आपकी स्किन क्रीम के अनुकूल हो जाती है, तो क्रीम अपना प्रभाव खो देती है। इसलिए इन्हें समय-समय पर बदलते रहना चाहिए। जबकि यह मिथक निश्चित रूप से गलत है। कभी-कभी नई क्रीम का इस्तेमाल करना आपकी स्किन के लिए तनावपूर्ण हो सकता है। हालांकि, ध्यान रखें कि अलग-अलग मौसमों के लिए त्वचा की देखभाल के नियम अलग-अलग होते हैं। इसलिए, गर्मी व ठंड के दिनों में आपको अपनी क्रीम को स्विच करने की जरूरत होगी। लेकिन आपको यूं ही अपनी क्रीम को बदलने से बचना चाहिए।

मिथ 3- झुर्रियों को रोकने के लिए ढेर सारा पानी पीना चाहिए।

woman holds glass with water Inside

सच्चाई- यह एक पॉपुलर मिथ है। कुछ महिलाएं यह मानती हैं कि झुर्रियों को रोकने के लिए ढेर सारा पानी पीना चाहिए। नियमित रूप से और आवश्यक मात्रा में पानी का सेवन त्वचा की उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है। हालांकि, यह पूरी तरह सच नहीं है। आपको यह समझना चाहिए कि एपिडर्मिस की ऊपरी परत की कोशिकाएं पहले ही मर चुकी होती हैं, इसलिए, वे अंदर से नमी को अवशोषित नहीं करती हैं। ऐसे में अपनी स्किन का ख्याल रखने के लिए आपको स्किन को बाहर से भी नमी देने की आवश्यकता होती है। हालांकि, पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन आपके शरीर के टॉक्सिन को बाहर निकालता है, जिससे स्किन पर सकारात्मक असर पड़ता है।

इसे जरूर पढ़ें:इन आठ मिथ्स पर करेंगी भरोसा तो एक्ने से कभी नहीं मिलेगा छुटकारा

Recommended Video

मिथ 4- धूप मुंहासों को गर्म करके उन्हें सुखा देते हैं।

सच्चाई- जिन महिलाओं को मुंहासों की समस्या होती है, वह इसके इलाज के लिए कई तरीके अपनाती हैं। एक पॉपुलर मिथ यह भी है कि धूप आपके मुंहासों को गर्म करते उन्हें सुखा देता है, जिससे वह मर जाते हैं। लेकिन वास्तव में सूरज आपकी स्किन को सुखाता है, जिससे त्वचा अधिक तेल स्रावित करके त्वचा पर प्रतिक्रिया करती है और ऐसे में रोम छिद्र बंद हो जाते हैं। इसके अलावा, बिना सुरक्षा के लंबे समय तक सूरज के संपर्क में रहने से सन एलर्जी हो सकती है, जो कई तरह की स्किन प्रॉब्लम्स की वजह बन सकती है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik