यह तो हम सभी जानती हैं कि बालों की स्टाइलिंग हमारे लुक के लिए काफी अहम् होती है। इतना ही नहीं, बालों को अलग-अलग तरह से स्टाइल करने के लिए लड़कियां कई तरह के हेयर टूल्स की मदद लेती हैं। वैसे जब बालों को स्ट्रेटन करने की बात हो तो सबसे पहले फ्लैट आयरन का नाम ही दिमाग में आता है। लेकिन अब मार्केट में इसके अलावा भी कुछ हेयर टूल्स मौजूद हैं, जिससे बालों को स्ट्रेटन किया जा सकता है। इन्हीं टूल्स में से एक है स्ट्रेटनिंग ब्रश। यह इन दिनों काफी चलन में है। 

लेकिन आमतौर पर महिलाओं को यह समझ नहीं आता है कि वह बालों को स्ट्रेटन करने के लिए किस टूल को सलेक्ट करें। इतना ही नहीं, वह यह भी समझ नहीं पातीं कि इन दोनों में क्या अंतर है। इस लिहाज से उन्हें एक सही प्रॉडक्ट चुनने में परेशानी होती है। हो सकता है कि आप भी घर पर ही बालों को स्ट्रेटन करने के लिए फ्लैट आयरन और स्ट्रेटनिंग ब्रश में से किसी एक को खरीदने के बारे में सोच रही हैं, लेकिन आपको कुछ समझ ना आ रहा हो। तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आज हम आपको फ्लैट आयरन और स्ट्रेटनिंग ब्रश के बीच का अंतर बता रहे हैं, जिसे जानने के बाद आपके लिए एक सही ऑप्शन चुनना अधिक आसान हो जाएगा-

प्राइस

hair straightening brush price

जब भी हम कोई चीज खरीदते हैं तो यह अवश्य देखते हैं कि कम बजट में हमें अच्छा प्रॉडक्ट मिल जाए। ऐसे में अगर फ्लैट आयरन और स्ट्रेटनिंग ब्रश के बीच के प्राइस के अंतर की बात की जाए। तो स्ट्रेटनिंग ब्रश आपको काफी कम दाम में मिल जाएगा। ऑनलाइन स्ट्रेटनिंग ब्रश की शुरूआत 300-400 रुपये में होती है, जबकि फ्लैट आयरन की शुरुआती रेंज 700-800 रुपये है। हालांकि, अगर आप एक ब्रांड का मॉडल सलेक्ट करती हैं तो शायद आपको इन दोनों में बहुत अधिक अंतर नजर आ आए।

परफॉर्मेंस

वहीं अगर परफॉर्मेंस की बात की जाए तो यकीन फ्लैट आयरन अधिक बेहतर रिजल्ट प्रदान करता है। अगर आप एकदम स्लीक और स्ट्रेट लुक चाहती हैं तो ऐसे में फ्लैट आयरन का आयरन का इस्तेमाल करना ज्यादा अच्छा रहेगा, जबकि स्ट्रेटनिंग ब्रश का रिजल्ट आपको शायद उतना बेहतर ना लगे। स्ट्रेटनिंग ब्रश भी बालों को स्ट्रेट करता है, लेकिन यह उतना स्लीक लुक नहीं देता है, जितना कि आपको फ्लैट आयरन से मिलता है।

सुविधाजनक

compare flat iron and brush

अगर आप कन्विनियन्स या सुविधा की बात करें तो इसमें स्ट्रेटनिंग ब्रश को यकीनन अधिक नंबर मिलते हैं। दरअसल, जब आप फ्लैट आयरन का इस्तेमाल करती हैं तो इसमें बालों को स्ट्रेट करने में ना केवल काफी वक्त लगता है, बल्कि इस दौरान आपको शीशे के सामने लंबे समय तक बैठना पड़ता है। इतना ही नहीं, अगर आप स्टाइलिंग में नई हैं, तो हो सकता है कि आप अपने बालों को डैमेज भी कर लें। वहीं स्ट्रेटनिंग ब्रश में सिरामिक कोटिंग होती हैं, लेकिन इससे बालों को स्ट्रेट करना काफी क्विक व आसान काम है। इसे आप टीवी देखते-देखते भी कर सकती हैं। स्ट्रेटनिंग ब्रश को ठीक ऐसे ही इस्तेमाल करना होता है, जैसा कि आप अपने ब्रश को करती हैं और इसलिए इसे कोई भी महिला बेहद आसानी से यूज कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें : कर्लर का इस्तेमाल करते हुए यह गलतियां बालों को कहीं कर ना दें खराब

क्लीनिंग

जहां फ्लैट आयरन की क्लीनिंग करना काफी आसान होता है, वहीं स्ट्रेटनिंग ब्रश की क्लीनिंग के लिए आपको अधिक टाइम इनवेस्ट करना पड़ सकता है। फ्लैट आयरन की क्लीनिंग के लिए आप प्लेट पर हैंड सेनिटाइजर अप्लाई करके बस वाइप्स से साफ करें। यह चुटकियों में क्लीन हो जाता है। लेकिन स्ट्रेटनिंग ब्रश को क्लीन करने के लिए आपको इसमें फंसे हुए बालों को पहले साफ करना होगा, जिसमें आपको काफी वक्त लग सकता है।

इसे भी पढ़ें : अगर आप भी करती हैं कर्लर और स्ट्रेटनर का इस्तेमाल, तो आज ही बदलें अपनी आदत

किसे करें इस्तेमाल

choose between hair brush and flat iron

अब सवाल यह उठता है कि आप इन दोनों में से किसका इस्तेमाल करें तो इसका सलेक्शन मुख्य रूप से आपके हेयर टाइप पर निर्भर करता है। मसलन, अगर आपके बाल बहुत अधिक थिक या कर्ली हैं और आप उसे स्ट्रेट करना चाहती हैं तो ऐसे में फ्लैट आयरन का चयन करें। यह आपके बालों को बेहतर रिजल्ट देगा। वहीं, अगर आपके बाल थिन हैं या बहुत अधिक कर्ली नहीं है तो ऐसे में स्ट्रेटनिंग ब्रश का इस्तेमाल करना अच्छा आईडिया हो सकता है।

Recommended Video

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।