मेकअप कुछ ऐसा है, जो किसी भी आम इंसान के लुक में चार-चांद लगा सकता है। और फिर महिलाओं को कहीं जाना हो तो मेकअप सबसे ज्यादा जरूरी है। अब तो मेकअप के ऐसे-ऐसे ट्रेंड्स आ चुके हैं जो हम सभी को हैरान कर देती हैं।

अब ऐसा ही कुछ ब्यूटी के फील्ड में नया-नया आया है और जिसने महिलाओं के बीच काफी लोकप्रियता हासिल की है। यह है 'बीबी ग्लो ट्रीटमेंट' जो काफी प्रचलन में है और रेडिएंट स्किन पाने के लिए काफी ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है। लेकिन आखिर यह है क्या? इसके क्या फायदे हैं, इसके बारे में आप जानती हैं? इस आर्टिकल में आज हम यह जानेंगे।

क्या है बीबी ग्लो?

बीबी ग्लो ट्रीटमेंट एक सेमी परमानेंट मेकअप ट्रीटमेंट है, जो कम इनवेसिव और नॉन-सर्जिकल प्रोसीजर होता है। इसमें हाइली इफेक्टिव टिंटेड पिगमेंट का इस्तेमाल कर, नैनो-नीडल या माइक्रोनीडल को त्वचा पर पेनिट्रेट किया जाता है। यह स्किन रिजुवेनेशन और कोलेजन उत्पादन को उत्तेजित करता है। बीबी ग्लो सीरम आपकी त्वचा में पोषक तत्वों के साथ-साथ आपके डिजायर्ड रंग को भी त्वचा में जोड़ता है।

बीबी ग्लो ट्रीटमेंट करने के स्टेप्स

डीप क्लीन : इसमें आपकी स्किन टाइप के मुताबिक कस्टम क्लींजर को चुना जाता है, जिसकी मदद से त्वचा से तेल और गंदगी को हटाया जाता है।

एक्सफोलिएशन : एक्सफोलिएशन जेल को पोर्स और डेड स्किन सेल्स को अच्छे से साफ करने के लिए एक्सफोलिएशन किया जाता है, ताकि बीबी ग्लो सीरम अब्सॉर्ब हो सके।

न्यूट्रलाइजेशन : टोनर का उपयोग त्वचा के पीएच को फिर से स्थापित करने, लालिमा को कम करने और त्वचा को हाइड्रेट करने के लिए किया जाता है।

बूस्टर सीरम : कस्टम बूस्टर सीरम आपकी त्वचा की जरूरतों के लिए हाथ से तैयार किया जाता है और बीबी ग्लो फेशियल के प्रभाव को बढ़ाने के लिए माइक्रोनीडलिंग का उपयोग करके लगाया जाता है।

बीबी ग्लो सीरम :  बीबी ग्लो सीरम को आपके डिजायर्ड शेड के अनुसार चुना जाता है और इसे माइक्रो-नीडलिंग तकनीक से लगाया जाता है।

ल्यूक्स एलईडी मास्क : बीबी ग्लो सीरम के ऊपर एक हाइड्रेटिंग मास्क लगाया जाता है, ताकि आपकी त्वचा को हाइड्रेटिंग और सूदिंग बेनिफिट्स मिले और वह सूखे नहीं।

इसे भी पढ़ें :Makeup Tips: मेकअप करने से पहले ‘प्राइमर’ लगाना क्यों है जरूरी, पढ़ें पूरी जानकारी

बीबी ग्लो ट्रीटमेंट के बेनिफिट्स

  • 1-2 महीने तक बिना मेकअप वाला मेकअप लुक देता है।
  • हर प्रकार की त्वचा और रंग के लिए कस्टमाइज्ड है।
  • इंस्टेंट ग्लोइंग और रेडिएंट कॉम्प्लेक्शन होगा।
  • त्वचा को हाइड्रेट करता है।
  • फाइन लाइन्स और झुर्रियों को कम करता है।
  • आंखों के नीचे के काले घेरों को कम करे।
  • ब्लैकहेड्स और पोर्स कम करे
  • एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और एंटी-एजिंग इंग्रीडिएंट्स से भरपूर है।
  • ब्लेमिशेस और डिस्कलरेशन को ठीक करे। 
  • यूवी एक्सपोजर से पहले और बाद में त्वचा में मेलेनिन की मात्रा को कम करता है।
  • लाली (रोसैसिया) और ब्रोकन कैपिलरीज को कवर करता है।

इनमें मिलती है मदद

bb glow treatment helps in aging

  • हाइपरपिग्मेंटेशन
  • मुंहासे के निशान
  • रोसैसिया
  • एजिंग स्किन
  • अनइवन टोन स्किन
  • डल स्किन

Recommended Video

आप भी बीबी ग्लो ट्रीटमेंट के बारे में सोच सकती हैं, लेकिन उससे पहले अपने स्किन स्पेशलिस्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपको यह लेख पसंद आया तो इसे लाइक और शेयर करें। ब्यूटी और मेकअप से जुड़े ऐसे लेख पढ़ने के लिए विजिट करें हरजिंदगी।

Image Credit: instagram@dentalboutiqueahd