शॉवर लेना हम सभी के डेली रूटीन का एक अहम् हिस्सा है। खासतौर से, गर्मी के दिनों में तो पसीने व उमस के कारण हम दिन में दो बार शॉवर लेना पसंद करते हैं। यह हमें एक ठंडक व ताजगी का अहसास देता है। साथ ही स्किन की बेहतर क्लीनिंग में भी मददगार साबित होता है। फेस की तरह की बॉडी की क्लीनिंग भी जरूरी है और शॉवर लेना इसके लिए बेहद जरूरी है। लेकिन क्या आप इस बात से वाकिफ हैं कि कभी-कभी शॉवर आपकी स्किन और सेहत दोनों पर ही विपरीत प्रभाव डाल सकता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि शॉवर लेते समय आप अनजाने ही कुछ गलतियां कर बैठती हैं। जिनसे वास्तव में आपको बचना चाहिए। हो सकता है कि आपको ऐसी कुछ मिसटेक्स के बारे में पता ना हो। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको ऐसी ही Showering Mistakes से आपको रूबरू करवा रहे हैं-

साबुन का अधिक इस्तेमाल करना

inside  soap use

यह एक सामान्य शॉवर मिसटेक है, जिसे हम सभी अक्सर कर बैठते हैं। नहाते समय हम साबुन का इस्तेमाल करते हैं, जिसे हम अपने फेस पर भी अप्लाई करते हैं। हालांकि, साबुन में मौजूद हार्श केमिकल्स आपकी स्किन के नेचुरल ऑयल को छीन लेते हैं। खासतौर से, फेस पर तो इसे बिल्कुल भी यूज नहीं करना चाहिए। साथ ही साबुन नियमित रूप से उपयोग किए जाने पर हमारी त्वचा के पीएच संतुलन को बदल सकते हैं, क्योंकि वे रसायनों से बने होते हैं। इसलिए, यह सलाह दी जाती है कि या तो प्राकृतिक और रासायनिक मुक्त साबुन का उपयोग करें या आपके द्वारा उपयोग किए जाने वाले साबुन की मात्रा को कम करें। वहीं, आप साबुन के स्थान पर शॉवर जेल या बॉडी वॉश को यूज करें। यह आपकी स्किन पर अधिक जेंटल होते हैं।

बहुत लंबे समय तक शावर में खड़े रहना

inside  shower taking long time

बहुत लंबे समय तक शॉवर के नीचे खड़े रहना कुछ ऐसा है जो हम सभी को पसंद है। लंबे थका देने वाले दिन के बाद, शॉवर लेने से मन और शरीर दोनों को ही रिलैक्स महसूस होता है। लेकिन क्या आपने कभी नोटिस किया है कि जब आप शॉवर में अधिक समय बिताते हैं तो आपकी उंगलियां कैसी रिंकल्स युक्त नजर आती हैं। यह झुर्रियां तब होती हैं जब आपकी त्वचा पानी को अवशोषित करती है और इसके नीचे रक्त वाहिकाएं सिकुड़ जाती हैं। शावर में लंबे समय तक रहने से त्वचा रूखी और शुष्क हो सकती है। इसलिए बेहतर होगा कि आप शॉवर में 10-15 मिनट से अधिक समय ना बिताएं।

इसे ज़रूर पढ़ें-एक्सपर्ट की इन 7 ट्रिक्स से आप बिना शैम्पू के भी बढ़ा सकती हैं बालों की खूबसूरती

अपने बाथ पफ और तौलिए को ना धोना

inside  bath tab

आखिरकार, हम सभी स्वच्छता बनाए रखने के लिए स्नान करते हैं। इसलिए यह ध्यान रखना जरूरी है कि शरीर की स्वच्छता व हाईजीन बनाए रखने के लिए जरूरी है कि शॉवर के दौरान इस्तेमाल की जाने वाली चीजें भी क्लीन होनी चाहिए। हम सभी लोग नहाते समय पफ और लूफा आदि का उपयोग करते हैं, जिसका हम अक्सर ध्यान रखना भूल जाते हैं। एक नियमित रूटीन पर अपने सभी पफ और अन्य स्नान सामान को साफ करना बहुत महत्वपूर्ण है। नियमित रूप से उन्हें साफ करने से किसी भी प्रकार के कवक और बैक्टीरिया को रोकने में मदद मिलेगी जो सीरियस हेल्थ इश्यू का कारण बन सकते हैं।

Recommended Video

हर दिन स्किन को एक्सफोलिएट करना

inside  washing hair

यह सच है कि एक्सफोलिएशन ब्लड सर्कुलेशन में मदद करता है। यह हमारी स्किन से डेड स्किन सेल्स को हटाकर उसे स्मूद और चमकदार बनाता है। इसलिए स्किन को एक्सफोलिएट करना जरूरी है और इसलिए लूफा का इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि, हर दिन अपने चेहरे या शरीर पर स्क्रब करने से बचना चाहिए। इससे त्वचा ऑयली भी हो सकती है। साथ ही रफ तरीके से लूफा का इस्तेमाल करने से स्किन पर रेडनेस, इरिटेशन, जलन व खुजली आदि की समस्या भी हो सकती है। इसलिए, इसे हफ्ते में सिर्फ दो या तीन बार करें। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि जेंटल क्लींजर या बॉडी वॉश की मदद से इसे जेंटल तरीके से यूज करें।

इसे ज़रूर पढ़ें-बेदाग निखरा चेहरा पाने के लिए कस्‍तूरी हल्‍दी का इस्‍तेमाल करें

 

शॉवर के बाद मॉइश्चराइजर ना लगाना

inside  cream use

हम में से ज्यादातर लोगों की आदत होती है कि वे बिस्तर पर जाने से पहले मॉइस्चराइजर लगाते हैं। हालांकि, मॉइश्चराइजर का मैक्सिमम लाभ आपको तभी मिलता है, जब आप इसे सही समय पर लगाएं। सुनिश्चित करें कि आप नहाने के तुरंत बाद अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज़ करें, इससे आपकी त्वचा को लंबे समय तक हाइड्रेट रखने में मदद मिलेगी।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik