अगर हम अपने लिए सही तरह का स्किन केयर रूटीन सेट करें तो वो काफी फायदेमंद साबित हो सकता है, लेकिन अगर वही स्किन केयर रूटीन हम गलत चुन लें और गलत इंग्रीडिएंट्स का इस्तेमाल करें तो हमारे लिए घातक भी साबित हो सकता है। वजह सिर्फ इतनी सी है कि हम अपनी स्किन के साथ कुछ ज्यादा ही एक्सपेरिमेंट कर लेते हैं। ऐसा जरूरी नहीं कि अगर किसी एक को कोई DIY फेसपैक सूट किया है तो दूसरे को भी वही करे। ब्यूटी ब्लॉगर्स की माने तो किचन में मौजूद हर इंग्रीडियंट हमारी स्किन के लिए लाभकारी हो सकता है, लेकिन कौन सा इंग्रीडियंट किसके लिए है ये देखना भी तो जरूरी है। आज हम इसी बारे में बात करेंगे कि आखिर किन गलतियों के कारण DIY स्किन केयर काम नहीं करती है।

1. नींबू का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल-

कई DIY स्किन केयर रूटीन में नींबू का इस्तेमाल जरूरत से ज्यादा किया जाता है। नींबू को बतौर स्किन लाइटेनिंग एजेंट फेस पैक में डाला जाता है, लेकिन क्या ये सभी पर असर करेगा? मैं आपको बता दूं कि बहुत ही कम लोगों की स्किन ऐसी होगी जो नींबू को झेल पाए। ये खाने के लिए तो बहुत अच्छा होता है, लेकिन जहां तक स्किन पर लगाने की बात है तो इसमें pH लेवल 2 होता है और हमारी स्किन का pH लेवल 4 या 5 होता है। ऐसे में हमारी स्किन के नेचुरल pH लेवल को ये खराब कर सकता है।

dry skin care mistakes

इतना ही नहीं नींबू में बहुत ज्यादा एसिड होता है जो स्किन को ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है और आपकी स्किन ज्यादा सेंसिटिव भी हो सकती है। इसलिए लेमन फेस पैक्स से थोड़ा दूर रहें।

इसे जरूर पढ़ें- अगर है रिंकल्स की समस्या तो घर पर बनाएं बीटरूट-एलोवेरा सीरम, स्किन होगी टाइट और आएगा Anti Ageing Glow

2. मेयोनीज मास्क को करें न-

कई ब्यूटी ब्लॉगर्स मेयोनीज मास्क को स्किन के लिए बहुत अच्छा मानते हैं। आजकल मेयोनीज फेस मास्क का चलन बढ़ रहा है, लेकिन ये स्किन पर एक्ने की समस्या पैदा कर सकते हैं। मेयोनीज मास्क असल में फैट और ऑयल से भरे होते हैं जो स्किन पोर्स को बंद कर देते हैं। इससे होता ये है कि हमारी स्किन पर बैक्टीरिया बढ़ता है और एक्ने हो जाते हैं।

Recommended Video

3. एप्पल साइडर विनेगर का ज्यादा इस्तेमाल-

ऐसा नहीं है कि ये हमारी स्किन पर कोई असर नहीं डालता, ये कुछ हद तक बैक्टीरिया खत्म करने के लिए ठीक हो सकता है, लेकिन तब जब इसे पानी में डाइल्यूट कर कॉटन की मदद से चेहरे पर लगाया जाए और फिर चेहरा धो दिया जाए। इसे फेस पैक में मिलाकर लगाने से वही रिएक्शन होगा जैसा कि नींबू के साथ होता है।

MISTAKES OF SKIN CARE ROUTINE

4. स्किन टाइप के हिसाब से नहीं चुन रहीं फेस पैक-

ड्राई और फ्लेकी स्किन टाइप के लिए टमाटर, आलू या ऐसा कोई भी स्टार्ची या एसिडिक इंग्रीडियंट चुनना गलत है। ये स्किन को और भी ज्यादा डिहाइड्रेट कर देगा। अगर आपकी स्किन में एक्ने हैं या फिर आप किसी तरह के स्किन इन्फेक्शन से परेशान हैं, डेड स्किन ज्यादा है तो भी ऐसे इंग्रीडियंट्स स्किन को खराब करने के लिए काफी होंगे। बेकिंग सोडा भी ऐसे में बहुत खतरनाक इंग्रीडियंट साबित हो सकता है। यहीं अगर आपकी स्किन ऑयली है और आपने विटामिन ई, बादाम तेल, मलाई या ऐसा ही कोई ऑयली इंग्रीडियंट चुन लिया तो ये आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। इसलिए अपने इंग्रीडियंट्स सावधानी से चुनें।

इसे जरूर पढे़ं- Anti Ageing Facial: आम और दही से 10 मिनट में किया जा सकता है परफेक्ट फेशियल, जानें कैसे

5. कुछ खास तरह के मसाले-

हल्दी का इस्तेमाल स्किन केयर के लिए सदियों से होता आ रहा है और भले ही स्किन पर इसका रंग चढ़ जाता है, लेकिन ये कुछ हद तक फायदेमंद हो सकती है। पर ऐसा भी हो सकता है कि हल्दी आपकी स्किन को सूट न करे और ये इरिटेशन पैदा कर दे।

दालचीनी, जायफल या ऐसा ही कोई अन्य मसाला इस्तेमाल करना तो यकीनन बहुत खतरनाक हो सकता है। भले ही आपको दालचीनी से बने फेस पैक्स लगाने को कोई कहे, लेकिन उसे अवॉइड करना चाहिए। जरूरी नहीं कि किचन में मौजूद हर मासाला हमारी स्किन के लिए सही हो और उसे इस्तेमाल ही किया जाए।

ये सभी टिप्स आपको ध्यान में रखनी चाहिए और इस हिसाब से ही DIY स्किन केयर रूटीन डिसाइड करना चाहिए। अगर आपको कोई एक फेस पैक सूट करता है तो इसे बार-बार बदलें नहीं और एक्सपेरिमेंट करने से बचें। साथ ही ये ध्यान रखें कि अगर आप घरेलु फेस पैक का इस्तेमाल कर रही हैं तो उसके साथ कोई खराब केमिकल वाला प्रोडक्ट न इस्तेमाल करें।

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।