मानसून में कई लोगों की ये समस्या होती है कि उनकी स्किन पर ज्यादा ह्यूमिडिटी के कारण पिंपल्स, डेड स्किन, ब्लैकहेड्स आदि हो जाते हैं। ये स्वाभाविक है क्योंकि मानसून की ह्यूमिडिटी और बारिश की बूंदों में मौजूद एसिडिक कण स्किन के पोर्स में गंदगी भर देते हैं। पोर्स में मौजूद गंदगी हमेशा आपकी स्किन के लिए खतरनाक होती है और इसे रोकने के लिए स्किन में एक्सफोलिएशन की जरूरत पड़ती है। 

कई लोगों को लगता है कि महंगा फेशियल करवाने या फिर स्किन ट्रीटमेंट्स लेने से ही काम हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं है। स्किन को आप घर पर ही अगर ठीक से एक्सफोलिएट करते हैं तो बहुत सारी परेशानियां अपने आप ही हल हो सकती हैं। पर एक समस्या ये भी होती है कि आखिर स्किन को ओवर या अंडर एक्सफोलिएट होने से कैसे बचाया जाए? 

हमने इस मामले में मिसेज राखी आहूजा से बात की। राखी जी JOVEES कंपनी की मैनेजिंग डायरेक्टर और फाउंडर होने के साथ-साथ ब्यूटी एक्सपर्ट भी हैं। राखी जी ने हमें विस्तार से ये बताया कि आखिर कैसे मानसून के समय हमें अपनी स्किन का ध्यान रखना चाहिए। 

skin care and exfoliation for monsoon

इसे जरूर पढ़ें- घर पर ही बिना थ्रेडिंग के आसानी से बना सकती हैं Eyebrow का Shape, ये ट्रिक आएगी काम 

स्किन की डीप सफाई है बहुत जरूरी है-

राखी जी का कहना है कि, 'स्किन की डीप क्लींजिंग बहुत जरूरी है जो न सिर्फ स्किन की ऊपरी सतह से गंदगी को निकालती है बल्कि इससे डेड स्किन भी साफ हो सकती है। इससे स्किन का सेल टर्नओवर (Cell Turnover) बेहतर होता है और नई चमकदार त्वचा मिलती है। स्किन को स्क्रब करने से जवां त्वचा और हैप्पी सेल्स सामने आते हैं और ये एंटी-एजिंग ट्रीटमेंट की तरह काम करता है।' 

monsoon skin care tonning

मानसून में किन चीज़ों से करना चाहिए एक्सफोलिएशन?

मानसून में डेड स्किन को निकालने के लिए आप कुछ नेचुरल चीज़ों का उपयोग कर सकते हैं। इस सीजन के लिए ये सभी बहुत बढ़िए एक्सफोलिएटर साबित होंगे-

  • कॉफी
  • टी-बैग्स
  • शक्कर
  • बेकिंग सोडा
  • पपीता
  • ओट्स और दही 

इस सीजन में आपकी स्किन में ये सभी बहुत अच्छा असर दिखाएंगे और ह्यूमिडिटी की वजह से हुई समस्याओं को भी दूर करेंगे।  

Recommended Video

मानसून सीजन में किस चीज़ से करें स्किन की क्लींजिंग- 

मानसून के सीजन में आपकी स्किन को क्लीनिंग के साथ-साथ हल्के मॉइश्चराइजेशन की भी जरूरत होती है। हल्का इसलिए क्योंकि इस सीजन में स्किन पोर्स को साफ होने के बाद सांस लेने की जरूरत होती है जिससे स्किन में ग्लो आए। ऐसे में ये सभी चीज़ें आपके लिए बेहतर हो सकती हैं- 

  • नारियल का तेल (ड्राई स्किन)
  • टी-ट्री ऑयल (ऑयली स्किन)
  • एप्पल साइडर विनेगर (ऑयली और कॉम्बिनेशन स्किन)
  • एलोवेरा जेल (ड्राई स्किन)
  • शहद और नींबू (जिस भी स्किन को सूट करे)
  • गुलाब जल (सभी तरह की स्किन के लिए) 
monsoon skin care and exfoliation

आप अपनी स्किन के हिसाब से ही अपने क्लींजिंग एजेंट को चुनें। स्किन का टेक्सचर कैसा है और उसपर क्लींजिंग का कैसा असर होगा ये जानने के लिए आप पहले एक पैच टेस्ट जरूर कर लें।  

इसे जरूर पढ़ें- बहुत ज्यादा डैमेज हो रहे हैं बाल तो इस तरह से लगाएं मेथी  

मानसून के समय किन चीज़ों से की जा सकती है टोनिंग? 

स्किन के एक्सफोलिएशन और उसकी क्लींजिंग के साथ-साथ उसकी टोनिंग भी बहुत जरूरी है। इससे चेहरे को फाइनल टच मिलता है और इसके लिए भी आप ये इंग्रीडिएंट्स इस्तेमाल कर सकती हैं- 

  • ग्रीन टी
  • नींबू का रस
  • गुलाब जल
  • खीरे का रस
  • कैमोमाइल टी 

ये सभी इंग्रीडिएंट्स आपकी स्किन पर किसी भी महंगे टोनर जैसा ही असर कर सकते हैं। आपको अपनी स्किन के हिसाब से ही टोनर चुनना चाहिए।  

मानसून के दौरान करें ये स्किन केयर रूटीन फॉलो- 

  • सबसे पहले शुरुआत चेहरा धोने से करें। आपको दिन में कम से कम दो बार तो चेहरा धोना ही है ताकि स्किन पोर्स को साफ करके एक्स्ट्रा तेल हटाया जा सके। 
  • आपको स्किन एक्सफोलिएशन का ध्यान रखना है। अगर आपकी ड्राई स्किन है तो हफ्ते में 1 बार भी काफी है, लेकिन अगर आपकी स्किन ऑयली या फिर कॉम्बिनेशन है तो आपको हफ्ते में दो बार तो कम से कम स्किन को स्क्रब करना होगा। 
  • इसके बाद आप चेहरे की क्लींजिंग और टोनिंग करें। ये स्किन केयर रूटीन इसी तरह से फॉलो करना होगा ताकि आपकी स्किन को पर्याप्त सफाई मिल पाए। 
  • भले ही बाहर सूरज की धूप नहीं हो और बारिश हो रही हो, लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि स्किन सूरज की हानिकारक अल्ट्रावायलेट किरणों से सुरक्षित है। स्किन की समस्याओं से निपटने के लिए आप सनस्क्रीन रोज़ाना लगाएं। ये हर मौसम में करना चाहिए। 
  • आप ज्यादा से ज्यादा नेचुरल प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें। कमर्शियल प्रोडक्ट्स में बहुत सारे केमिकल्स होते हैं जो स्किन को नुकसान पहुंचा सकते हैं। 
  • अगर एक्ने की समस्या ज्यादा है तो मेकअप का इस्तेमाल न करें। अगर किसी वजह से कर भी रहे हैं तो रात में सोने से पहले मेकअप जरूर निकाल दें।  

आपकी स्किन पर क्या सूट करता है वो जानने के लिए पैच टेस्ट करना बहुत अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। इसी के साथ, अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है और आपको किसी तरह की बीमारी है जिसका इलाज चल रहा है तो डॉक्टर की सलाह के बाद ही आप अपनी स्किन पर कुछ ट्राई करें।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।