हर किसी के पास कोई न कोई स्किनकेयर टिप होती है जिसे वह बहुत ज्‍यादा पसंद करती है और न केवल इससे खुद की केयर करती है बल्कि दूसरों के साथ शेयर करने के लिए भी तैयार रहती है। आपकी मां, आपकी सबसे अच्छी दोस्त और यहां तक इंटरनेंट पर सुबह और शाम के लिए स्किन केयर रूटीन की बाढ़ है। सुझाव अंतहीन हैं, लेकिन यह तय करना काफी मुश्किल हो सकता है कि त्वचा को ग्‍लोइंग और बेदाग बनाने के लिए सबसे अच्छे और सुरक्षित टिप कौन सा है, है ना?

जी हां, हम सभी महिलाएं बेदाग और ग्‍लोइंग स्किन का सपना देखती हैं, लेकिन लगातार आने वाले नए प्रोडक्‍ट्स और इंटरनेट पर अंतहीन स्किन केयर सलाह के साथ, खुद के लिए सबसे बेस्‍ट स्किन केयर रूटीन का पता लगाना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए आज हमारी एक्‍सपर्ट आपको कुछ बेहतरीन स्किन केयर टिप्‍स के बारे में बता रही हैं जिनकी मदद से आपकी त्‍वचा हमेशा ग्‍लोइंग दिखाई देगी। इन टिप्‍स की सबसे अच्‍छी बात यह है कि इन टिप्‍स को आप हर मौसम में अपना सकती हैं। आइए इन टिप्‍स के बारे में लक्स क्लिनीक की एडवांस्ड कोस्मैटोलॉजी एक्सपर्ट और फाउंडर, डॉक्‍टर रितिका ढींगरा जी से जानें।

अच्‍छे मॉइश्चराइज का इस्‍तेमाल

best moisturizer for skin

मॉइश्चराइजर लगाना न केवल आपकी त्‍वचा को नमी प्रदान करता है बल्कि बढ़ती उम्र के साथ त्‍वचा को साफ, स्‍मूथ और झुर्रियों से मुक्त रखने में मदद करता है। 

अपनी त्वचा के लिए सही प्रकार के मॉइश्चराइजर का इस्‍तेमाल करने से इसका संतुलन बनाए रखने में मदद मिल सकती है। जब त्वचा बहुत अधिक ड्राई या बहुत अधिक ऑयली होती है, तो त्वचा की कई सामान्य समस्याएं जैसे मुंहासे उभरने लगते हैं। यदि आपकी त्वचा ऑयली है, तो आपको क्रीम की बजाय लोशन की तलाश करनी चाहिए। यदि आपकी त्वचा ड्राई है, तो तेल की मात्रा अधिक वाली क्रीम की तलाश करें।

मॉइश्चराइजर आपकी त्वचा को जवां बनाए रखने में मदद करता है क्‍योंकि यह झुर्रियों से लड़ता है। ब्रिटिश जर्नल ऑफ डर्मेटोलॉजी के अनुसार, ठीक से नमीयुक्त त्वचा वाले लोग ड्राई त्वचा वाले लोगों की दर से केवल एक अंश पर झुर्रियां जमा करते हैं।

डॉक्‍टर रितिका ढींगरा जी के अनुसार, 'मॉइश्चराइजर लिपिड प्रदान करके, बाहरी केमिकल्‍स से रक्षा करके और कभी-कभी रूखी त्वचा को पानी प्रदान करके त्वचा को ग्‍लोइंग बनाने में मदद करता है। इसलिए हमेशा एक अच्‍छे मॉइश्चराइजर का इस्‍तेमाल करना चाहिए।'

इसे जरूर पढ़ें: काले धब्‍बों के कारण चेहरा दिखता है खराब, अपनाएं ये टिप्‍स

केमिकल पील पर विचार करें

केमिकल पील एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसमें कुछ खास केमिकल्स के इस्‍तेमाल से त्वचा की ऊपरी परत को हटा दिया जाता है। इससे रंगत में निखार आने के साथ फाइन लाइन्स और रिंकल्स की समस्या से बचा जा सकता है। यह प्रक्रिया बहुत ही आसान होती है लेकिन इसे आपको किसी एक्‍सपर्ट से ही करवाना चाहिए।

डॉक्‍टर रितिका ढींगरा जी का कहना है, 'साप्ताहिक केमिकल पील्‍स हेल्‍दी बैक्टीरिया को बढ़ने में मदद करते हैं। जबकि स्क्रब का विपरीत प्रभाव पड़ता है, जो कोलेजन को नष्ट करने वाले एंजाइम को ट्रिगर करता है।'

फेशियल कराना शुरू करें

facial benefits

आजकल बढ़ते प्रदूषण और तनावपूर्ण जीवनशैली से हमारा शरीर हमेशा तनाव में रहता है। तनाव और वायु प्रदूषण के लक्षण आपकी त्वचा पर दिखाई देने लगते हैं। इसलिए त्वचा संबंधी समस्याएं बहुत आम हो सकती हैं। इन समस्याओं से निपटने के लिए आपको जिन कुछ समाधानों में से किसी एक का चुनाव करना चाहिए, वह फेशियल है। इसे सिर्फ एक ब्यूटी ट्रीटमेंटसमझने की बजाय फेशियल के फायदों पर गौर करना जरूरी है।

त्वचा की सफाई फेशियल के सबसे महत्वपूर्ण लाभों में से एक है। आज की तनावपूर्ण जीवन शैली में 30 की उम्र से त्वचा की रक्षा करना जरूरी है। यदि आप ऐसा नहीं करती हैं, तो तनाव के लक्षण तेज हो जाएंगे। ऐसा करने के सबसे प्रभावी तरीकों में से एक फेशियल का चुनाव करना है।

इससे आपके चेहरे में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होगा। जैसे-जैसे ब्‍लड सर्कुलेशन में सुधार होता है, त्वचा की सेल्‍स को अधिक ऑक्सीजन और पोषक तत्व प्राप्त होंगे। यह सेल पुनर्जनन की प्रक्रिया को गति और तेज करेगा।

डॉक्‍टर रितिका ढींगरा जी के अनुसार, 'मैं हमेशा ग्राहकों को महीने में एक बार फेशियल कराने की सलाह देती हूं। एक बेसिक फेशियल पोर्स को साफ करने, डेड स्किन सेल्‍स को हटाने, त्वचा की सामान्य समस्याओं जैसे मुंहासे, डार्क सर्कल्‍स, झुर्रियां और उम्र बढ़ने के अन्य लक्षणों का इलाज करने में मदद करता है।'

Recommended Video


नॉन फोमिंग क्लींजर का इस्तेमाल करें

चेहरे की क्‍लींजिंग करना सबसे बे‍सिक सीटीएम रूटीन में पहला और सबसे महत्वपूर्ण स्‍टेप है। यह किसी भी बिल्‍डअप को साफ करके त्‍वचा को हेल्‍दी और स्‍मूथ बनाता है। इससे त्वचा हाइड्रेटेडेट, मुलायम और जवां दिखाई देती है। 

जी हां, फेशियल क्लीन्ज़र एक स्किनकेयर प्रोडक्‍ट है जिसका इस्‍तेमाल त्वचा से मेकअप, डेड स्किन सेल्‍स, तेल, गंदगी और अन्य प्रकार के प्रदूषकों को हटाने के लिए किया जाता है, जो पोर्स को साफ रखने और त्वचा की स्थिति जैसे मुंहासों को रोकने में मदद करता है।

डॉक्‍टर रितिका का कहना है, 'हाई फोमिंग क्‍लींजर से दूर रहें, क्योंकि वे त्वचा को टाइट, ड्राई और ब्रेकआउट के लिए अधिक प्रवण करते हुए ग्‍लो को छीन सकते हैं। यहां तक कि इससे फाइन लाइन्‍स, झुर्रियां और पर्यावरण के प्रति सेंसिटिविटी भी हो सकती है।' इसलिए नॉन फोमिंग क्‍लींजर का इस्‍तेमाल करें।

प्रोडक्‍ट्स को लगाते समय अपना समय लें

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Dr Ritika Dhingra (@dr_ritikadhingra)

आपके द्वारा इस्‍तेमाल किए जाने वाले या जरूरी प्रोडक्‍ट की प्रभावशीलता को अधिकतम करने के लिए (चाहे वह आपका टोनर, मॉइश्चराइजर, सीरम, तेल, या सनस्क्रीन इत्यादि हो), आपको निश्चित रूप से प्रत्येक एप्लिकेशन के बीच समय चाहिए ताकि आपकी स्किन प्रोडक्‍ट्स के अविश्वसनीय गुणों को अवशोषित कर सके। अनुसंधान यहां बहुत सीमित है, लेकिन एक्‍सपर्ट इस बात से सहमत हैं कि अगले प्रोडक्‍ट तक पहुंचने से पहले हर प्रोडक्‍ट के पूरी तरह से ड्राई होने की प्रतीक्षा करनी चाहिए, चाहे इसमें कुछ सेकेंड लगें या पूरा मिनट।

इसे जरूर पढ़ें: काले धब्‍बों से छुटकारा दिलाकर चेहरे पर चांद जैसा निखार लाते हैं ये 8 उपाय

कई एक्‍सपर्ट की राय है कि एक निश्चित अवधि तक प्रतीक्षा करने से प्रोडक्‍ट अधिक प्रभावी हो जाते हैं। वे आमतौर पर सीरम, मॉइश्चराइजर और सनस्क्रीन के बीच लगभग एक मिनट तक प्रतीक्षा करने की सलाह देते हैं। यह अगले प्रोडक्‍ट को लगाने से पहले इसे अवशोषित होने के लिए एक पल देने में मदद करता है।

डॉक्‍टर रितिका के अनुसार, 'लेयरिंग करते समय, हर प्रोडक्‍ट को 2 या 3 मिनट के लिए अवशोषित होने दें ताकि आपके द्वारा लगाए गए अगले प्रोडक्‍ट भी अच्‍छी तरह से लग जाए।'   


इन 5 टिप्‍स को अपनाकर आप भी अपनी त्‍वचा को हर मौसम में ग्‍लोइंग बना सकती हैं। इन टिप्‍स को अपनाने से पहले एक बार एक्‍सपर्ट से सलाह जरूर कर लें। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik & Shutterstock