रीसेट करने का मतलब है कि आप अपने दिन के काम को छोटा, आंतरिक बनाने और सिर्फ रिलैक्‍स करने के लिए बदल रहे हैं। यह कुछ फूड्स को डाइट में शामिल करने और दूसरों को बाहर निकालकर डाइट में परिवर्तन करने से बहुत अलग और ज्‍यादा है। यह सिर्फ हर्बल चाय की तुलना में बहुत अधिक है। यह समझने के लिए इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें कि रीसेट या सीजनल क्‍लींजिंग/डिटॉक्स करते समय आपको अपने दिन को कैसे बदलना चाहिए। 

इस बारे में हमें आयुर्वेदिक एक्‍सपर्ट निति सेठ जी बता रही हैं। उन्‍होंने अपने इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से बॉडी को डिटॉक्‍स करके रीसेट करने के टिप्‍स फैन्‍स के साथ शेयर किए हैं। उनके अनुसार, 'बॉडी को रीसेट केवल आप जो खाते हैं उसे बदलने के बारे में नहीं है। रीसेट के दौरान लाइफस्‍टाइल से जुड़े बदलाव बेहद जरूरी है। आप भी इन टिप्‍स की मदद से अपनी बॉडी को रीसेट करके मौसमी बदलाव के साथ भी खुद को फिट रख पाएंगी।

इंद्रियों को जगाना

awaken the senses

  • स्क्रीन के अलावा किसी और चीज के लिए अपनी आंखें खोलें। इसके लिए अलार्म घड़ी का इस्‍तेमाल करें।
  • गर्म तिल के तेल की कुछ बूंदों के साथ नासिका मार्ग को चिकनाई दें या बस अपनी साफ छोटी उंगली को तिल के तेल या घी में डुबोएं और अपने नथुने के अंदर रगड़ें।
  • दांतों को ब्रश करके और जीभ को खुरच कर अपना मुंह साफ करें। यदि आप पहले से ही इन दो चीजों को कर रही हैं तो एक अतिरिक्त अभ्यास के रूप में ऑयल पुलिंग करें।
  • अपने दिन की शुरुआत करने के लिए कानों को शांत और शांतिपूर्ण ध्वनियों, मेडिटेटिव म्‍यूजिक या मंत्रों से जगाएं।
  • त्वचा को उत्तेजित और साफ़ करने के लिए सुबह नहाने से पहले एक हल्की गर्म तेल की मालिश करें।

Recommended Video

सूर्य के साथ खाएं

  • जैसे सूरज उगता है, वैसे ही आपका डाइजेशन। इसे हल्के और गर्म नाश्ते के साथ स्टोक करें।
  • दोपहर के भोजन के समय सूर्य अपने चरम पर होता है और ऐसा ही आपका डाइजेशन भी होता है। इस प्राकृतिक शक्ति का लाभ के रूप में इस्‍तेमाल करें और दिन का सबसे बड़ा भोजन करें।
  • जैसे सूरज डूबता है, वैसे ही आपका डाइजेशन। रात के खाने में हल्का और कम भोजन करें।

काम को कम करने की कोशिश करें

body with seasonal changes health

  • रीसेट के दौरान अपना काम कम से कम करें।
  • अगर आपको काम करना है, तो कम मीटिंग्स में शेड्यूल करें।
  • अपने रीसेट के दौरान किसी सामाजिक जुड़ाव/कार्य की योजना न बनाएं।
  • अपने रीसेट के दौरान प्रकृति में अधिक समय बिताएं। जंगलों में टहलने जाएं या पानी के पास समय बिताएं। अपने उपकरणों से अनप्लग करें और प्रकृति के साथ प्लग करें।

दिन को ऐसे पूरा करें 

  • सोने से कम से कम 1 घंटे पहले सभी स्क्रीन बंद कर दें।
  • एक गर्म हर्बल ड्रिंक का सेवन करें 
  • रोजाना रात को अपने रूटीन में शामिल करने के लिए निम्नलिखित में से कोई एक अभ्यास चुनें। 
  • मेडिटेशन- ऑडियो मेडिटेशन या ऐप का इस्‍तेमाल करें।
  • श्वास-प्रश्वास, साधारण प्राणायाम जैसे वैकल्पिक नाक से सांस लेना।
  • जर्नलिंग, अपना आभार व्यक्त करें, अपने विचार शेयर करें, अपने तनाव को दूर करें।
  • गर्म तेल की मालिश सिर या पैर पर करें। 
 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Niti Sheth (@_nitisheth_)

एक्‍सपर्ट के इन टिप्‍स को अपनाकर आप भी अपने शरीर को रीसेट करके खुद को मौसम में बदलाव के साथ भी फिट रख सकती हैं। यह आर्टिकल आपको कैसा लगा? फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।  

Image Credit: Shutterstock.com