जैसे-जैसे सर्दियां शुरू होती हैं, वैसे-वैसे कुछ लोगों को कई स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है और उनमें से एक पैरों में दर्द महसूस करना भी है। जिसके कारण वह कम एक्टिव हो जाते हैं। अगर आप भी सर्दियों के दौरान पैरों में होने वाले दर्द से परेशान रहती हैं तो आइए इस आर्टिकल के माध्‍यम से इसे दूर करने के उपायों के बारे में जानते हैं। इसके बारे में हमें फिटनेस एक्‍सपर्ट टीना चौधरी जी बता रही हैं। लेकिन सबसे पहले सर्दियों में पैरों में दर्द के कारणों के बारे में जान लेते हैं।

सर्दियों में पैरों में दर्द के कारण

विभिन्न अध्ययनों के अनुसार, सर्दियों में बैरोमेट्रिक प्रेशर में गिरावट के कारण टेंडन, मसल्‍स और आस-पास के टिशूओं का विस्तार होता है। शरीर के भीतर सीमित जगह के कारण, यह दर्द पैदा कर सकता है। 

सामान्य तौर पर, सर्दियों के दौरान, हम ठंड के मौसम के कारण मूवमेंट को काफी कम कर देते हैं, ज्यादा एक्‍सरसाइज नहीं करते हैं और गर्म रहने के लिए खुद को कम्‍बल में लपेट कर रखते हैं, कैलोरी से भरपूर भोजन करते हैं और कुछ एक्‍स्‍ट्रा वजन को बढ़ाते हैं। ये सभी कारक पैरों में दर्द के लिए जिम्मेदार होते हैं।

कारण जो भी हो, यह एक तथ्य है कि बहुत से लोगों के शरीर में विशेष रूप से निचले अंगों में दर्द होता है। यद्यपि आप इसे एक गंभीर स्वास्थ्य चिंता के रूप में नहीं ले सकते हैं, लेकिन इसे रोकने और इससे निपटने की दिशा में काम करना चाहिए, ताकि दर्द न बढ़े और सर्दियों में आपकी गतिशीलता को सीमित कर दें।

एक्‍सपर्ट की राय

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Nutritionistteena (@nutritionistteena)

एक्‍सपर्ट टीना चौधरी जी का कहना है, अगर दर्द हो रहा है तो इसका मतलब है कि शरीर में कुछ गलत हो रहा है। दर्द हमेशा कुछ इंगित करता है। यह बहुत ज्‍यादा फिजिकल एक्टिविटी पोषण की कमी या किसी चोट के कारण हो सकता है। लेकिन छोटी-छोटी चीजें चमत्कार कर सकती हैं।' आइए इन चीजों के बारे में जानें।

ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल

सर्दियों में अपने पैरों को दर्द से बचाने के लिए ऑलिव ऑयल से मसाजकरें। ऑलिव ऑयल मसल्‍स पेन या किसी भी अन्‍य तरह के दर्द में बहुत राहत देता है। पैरों की मालिश करने से ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ता है, कोमल टिशूओं को आराम और सामान्य करता है, जो नसों और डीप कनेक्‍टीव टिशूओं को मुक्त करता है। जिससे मसल्‍स में ऐंठन और दर्द की संवेदना कम होती है।

इसे जरूर पढ़ें:पैरों में होता है अक्‍सर दर्द तो अपनाएं ये घरेलू नुस्‍खे

नमक के पानी से सिकाई

salt water

नमक के पानी से पैरों की सिकाई करें। इससे भी पैरों की मसल्‍स को आराम मिलता है। इससे आपके पैरों की सूजन भी कम हो सकती है। इसके लिए हल्‍के गर्म पानी को एक टब में डालें और‍ फिर इसमें सेंधा नमक मिलाएं। इसके बाद अपने पैरों को इस पानी में कुछ देर के लिए भिगोएं। आपको आराम मिलेगा। 

पैरों के नीचे तकिया रखें

पैरों के दर्द को कम करने के लिए लेटते समय अपने पैरों के नीचे तकिया रखें। इससे ब्‍लड सर्कुलेशन ठीक होता है, मसल्‍स में खिंचाव महसूस नहीं होता है और दर्द से राहत मिलती है।

Recommended Video

प्रोटीन डाइट

protein diet

अपनी डाइट में प्रोटीन को बढाएं। हाई प्रोटीन डाइट में दाल, सोयाबीन, अंडे आदि को शामिल करें। साथ ही दूध, पनीर, दही प्रोटीन के अच्छे स्रोत हैं। इसके अलावा कद्दू के बीज, मूंगफली, टोफू, अमरूद और झींगा में भी अच्छी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। प्रोटीन दर्द से राहत देने में बहुत अहम होता है। 

इसे जरूर पढ़ें: पैरों में दर्द की समस्या से छुटकारा पाने के लिए ये टिप्स अपनाएं

पैरों की स्‍ट्रेचिंग

अगर आपके पैरों में दर्द बहुत ज्‍यादा देर खड़े रहने या ज्‍यादा वर्कआउट करने के कारण हो रहा है तो पैरों की स्‍ट्रेचिंग करें। इससे भी आपको पैरों के दर्द से राहत मिलेगी। सर्दियों के दौरान दर्द और जकड़न को कम करने के लिए एक्टिव रहना और अपने जोड़ों और मसल्‍स की एक्‍सरसाइज करना जरूरी है। स्‍ट्रेचिंग ब्‍लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है, आपके शरीर के श्लेष द्रव के उत्पादन को बढ़ाता है, जो आपके जोड़ों को चिकनाई देता है और मूवमेंट को आसान और आरामदायक बनाता है।

अगर आपके एक पैर में दर्द है और दूसरे पैर बिल्‍कुल ठीक है तो आपको डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए। यह दर्द किसी चोट के कारण हो सकता है। इस तरह का दर्द नॉर्मल पेन से ज्‍यादा होता है। अगर आपका दर्द हल्‍के से मीडियम है तो इन टिप्‍स की मदद से ठीक हो जाएगा। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।    

Image Credit: Freepik & Shutterstock