आजकल की भागदौड़ भरी लाइफ, खान-पान की गलत आदतों, लंबे समय तक बैठकर काम करने के कारण महिलाओं में जोड़ो और शरीर के किस्‍से भी हिस्‍से में दर्द बहुत आम हो गया है। एक शोध के अनुसार आज 10 में से 8 महिलाएं जोड़ों और घुटनों के दर्द से परेशान है। लेकिन यह समस्‍या बारिश के दिनों में और ज्‍यादा बढ़ जाती है। जी हां मौसम में बदलाव के कारण दर्द की समस्‍या और भी बढ़ जाती है। और इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए कई तरह की पेनकिलर लेती है, इससे दर्द कुछ देर के लिए दूर हो जाता है। लेकिन दवा का असर कम होते ही पेन फिर से शुरू होने लगता है। 

अगर आपका दर्द भी बारिश में बढ़ने लगता है तो परेशान ना हो क्‍योंकि आज हम आपको कुछ ऐसे आसान घरेलू टिप्‍स के बारे में बता रहे हैं, जिसके लिए आपको कहीं जाने कि जरूरत नहीं है यह अपनी किचन में ही मौजूद हैं। और सबसे अच्‍छी बात यह आपके दर्द को कुछ ही दिनों में हमेशा के लिए दूर कर देते हैं। आइए जानें कौन सी है ये चीजें।     

लहसुन की 2 कली
body pain health article ()

लहसुन किसी भी सब्‍जी के स्‍वाद को कई गुणा बढ़ा देता है। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि लहसुन आपके शरीर के दर्द को दूर करने के काम भी आता है। जी हां लहसुन में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीइंफ्लेमेट्ररी, एंटीबैक्‍टीरियल और दर्दनिवारक गुण होते हैं जो आपको कई बीमारियों से दूर रखता है। लेकिन दर्द को दूर करने में यह विशेष रूप से उपयोगी है। इसमें लहसुन में ऐसे एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं जो फ्री रेडिकल डैमेज को रोकते हैं। इसमें मौजूद सेलेनियम और एलीसिन जैसे तत्‍व दर्द से आराम पहुंचाने में हेल्‍प करते हैं। इसलिए लहसुन को एक वंडर फूड कहा जाता है। आयुर्वेद में तो लहसुन को औषधि माना गया है। हालांकि आपको किसी न किसी रूप में लहसुन को अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। लेकिन सुबह-सवेरे खाली पेट लहसुन खाने से आपको सबसे ज्‍यादा फायदा होगा। 

 

अदरक का छोटा सा टुकड़ा

अदरक एक भारतीय मसाला है जो हर घर में रोजाना इस्‍तेमाल होता है। हालांकि इसकी तासीर गर्म होने के कारण इसका ज्‍यादा सेवन सर्दियों में किया जा सकता है, लेकिन बा‍कि मौसम में भी आप थोड़ी सी मात्रा में इसे ले सकती हैं। अदरक में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, आयरन, कैल्शियम जैसे पोषक तत्‍व पाए जाते हैं जो हमारे शरीर को हेल्‍दी रखने में काम करते हैं। जी हां रोजाना अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा खाने से आप शरीर में होने वाले दर्द से बच सकती हैं। अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते है जो जोड़ों के दर्द को खत्म करने में सहायक होता है।

Read more: प्रेग्‍नेंसी में हिप्‍स के दर्द से हो गई हैं बेहाल तो फौरान राहत पाने अपनाएं ये टिप्‍स

मेथीदाना के 8 दाने
body pain methidana article ()

खाने में बादीपन दूर करने के लिए इस्‍तेमाल होने वाला ये मसाला आपको अपनी किचन में आसानी से मिल जाएगा। यह पेट को सही रखने के साथ-साथ दर्द को दूर करने में भी काम आता है। जी हां मेथी के दानों में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। साथ ही मेथी तमाम एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है। इसके अलावा एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण मेथी दर्द और सूजन को दूर करने के लिए कारगर, प्राकृतिक और हानिरहित उपाय है। दर्द से बचने के लिए आपको रोजाना मेथी को लेना है। इसके लिए आप इसका पाउडर बनाकर खा सकती हैं। लेकिन अगर आपकी बॉडी की तासीर गर्म हैं तो आप रात में कुछ दाने मेथी के पानी में भिगोकर आप इसे सुबह ले सकती हैं। ऐसा कुछ दिन रोजाना करने से आपका दर्द कुछ ही दिनों में छूमंतर हो जाएगा।

फ्लैक्‍स सीड की 1 चम्‍मच

फ्लैक्‍स सीड यानि अलसी में भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन्स व मिनरल्स मौजूद होते है जो हेल्‍थ के लिए बहुत लाभकारी होते है। अलसी हर तरह के दर्द को दूर करने में असरदार होता है। इसे खाने से ब्‍लड पतला होता है जिसके कारण ब्‍लड सर्कुलेशन सही तरीके से होता है और दर्द जैसी समस्‍याएं दूर हो जाती है। रोजाना 1 चम्‍मच फ्लैक्‍स सीड खाने से आप दर्द के अलावा अन्‍य कई तरह की समस्‍या से बची रह सकती हैं। जी हां रोजाना रात को 1 चम्‍मच अलसी को थोड़े से पानी में भिगोकर रख दें। और सुबह इसे खा लें और पानी को पी लें।

Read more: बॉडी पेन और स्‍वेलिंग को कम करने के लिए बेस्‍ट हैं ये 9 फूड

तिल के तेल की मालिश
body pain til ka tail article ()

तिल का तेल काफी गर्म होता है जिससे मसल्‍स को आराम मिलता है। दर्द होने पर इस तेल से मालिश करने से फायदा होता है। तिल में कैल्शियम, मैग्नीशियम, कॉपर, जिंक, फॉस्फॉरस, विटमिन डी के साथ ही और भी कई विटमिन्स होते हैं जो हड्डियों के लिए फायदेमंद है। पेन से निजात पाने के लिए तिल के तेल को गुनगुना करके इससे रोज मालिश करें। तिल का सेवन करने से भी यह दर्द को कम करता है। इसके अलावा शरीर में सही ढंग से ब्‍लड सर्कुलेशन न होने की वजह से बॉडी में पेन होने लगता है। तिल के तेल की मालिश से आपके शरीर में ब्‍लड सर्कुलेशन सही होगा और आप हेल्‍दी रहेंगी।
इन चीजों को अपने रूटीन में लेने से आप कुछ ही दिनों में शरीर में होने वाले दर्द से हमेशा के लिए निजात पा सकती हैं।

Recommended Video