2020 में कोविड -19 ने हमारी जिंदगी को रोक सा दिया है। कोविड के आने के बाद से ही तरह-तरह की बातें सामने आई हैं, लोग क्वारेंटाइन होने लगे हैं, नए-नए हॉस्पिटल्स बने हैं, लेकिन एक बात जो लोगों को डरा कर रख रही है वो ये है कि अब आम सीजनल बीमारियों से भी लोगों को डर लगने लगा है कि कहीं ये कोविड तो नहीं। आप खुद ही सोचिए ऐसा आपके साथ कितनी बार हुआ है कि किसी को बुखार आया हो और आपको कोविड का शक हो गया हो। 

कोविड-19 के सभी लक्षण नॉर्मल सीजनल बीमारियों से काफी मिलते-जुलते हैं और यही कारण है कि लोगों को कई बार भ्रम हो जाता है। पर ये भ्रम कई बार मानसिक तनाव का कारण भी बन सकता है। कोविड-19 आम बीमारी नहीं है और इसलिए इसका भ्रम होना भी कई बार मरीज़ के लिए दिक्कत का विषय बन जाता है। ऐसे में क्यों न हम कुछ लक्षणों पर गौर करें और ये पता करें कि आम गले का दर्द को कोविड-19 में क्या अंतर है?

सर्दियों का मौसम है और ऐसे में वायरल इन्फेक्शन्स आम हो जाते हैं। गले में खराश या दर्द तो बहुत ही ज्यादा आम है और ऐसे में कोविड का डर है या नहीं इसे जांचना जरूरी है। सबसे पहले हम जान लेते हैं कि कोविड-19 के लक्षणों में क्या गले में दर्द या खराश है?

WHO द्वारा निर्धारित कोविड-19 के लक्षण-

- बुखार

- सूखी खांसी

- थकान

covid and sore throat

इसे जरूर पढ़ें- डॉक्टर से ऑनलाइन परामर्श लेते समय रखें इन बातों का ध्यान 

कोविड 19 के यही सबसे जरूरी लक्षण हैं। इनके अलावा कुछ कम कॉमन लक्षण हैं जो हर मरीज़ में अलग हो सकते हैं जैसे-

- स्मेल न आना या फिर टेस्ट का चला जाना

- नाक बंद

- कंजक्टिवाइटिस (लाल आंखें)

- गला खराब होना

- सिरदर्द

- मसल्स या ज्वाइंट पेन

- अलग-अलग तरह के स्किन रैश

- उल्टी या फिर जी मिचलाना

- डायरिया

- सर्दी लगना  

इसी के साथ, सांस लेने में दिक्कत, मानसिक समस्याएं, नींद न आने की समस्याएं, एंग्जाइटी, भूख न लगना आदि भी कोविड-19 के कई लक्षणों में से एक है।  

ये सभी लक्षण किसी भी उम्र के मरीज को हो सकते हैं और WHO भी मानता है कि गला खराब होना कोई नॉर्मल लक्षण नहीं है।  

soar throat and covid

क्यों होता है गला खराब? 

गला खराब होने के कई कारण हो सकते हैं, सबसे पहले तो ये मौसम का असर हो सकता है क्योंकि इस मौसम में हवा में खुश्की आ जाती है और ये कई तरह के इन्फेक्शन्स का कारण बनता है। गले में दर्द होता है और ये सूखा लगता है। ऐसे में गले में खुजली भी होने लगती है। ये टॉन्सिल्स की वजह से भी हो सकता है। अगर किसी को मुंह के ठीक नीचे खुजली आदि हो रही है तो वो अलग कारणों से होगी और नीचे के हिस्से में गले का दर्द अलग कारणों से। आपके खान-पान की समस्या और एलर्जी भी इसके जिम्मेदार हो सकते हैं।  

क्यों कोविड-19 में हो सकता है गला खराब? 

वैसे तो गला खराब होना कोविड-19 का आम लक्षण नहीं है, लेकिन ऐसा भी हो सकता है कि गला खराब हो जाए। इसका कारण ये है कि नोवल कोरोना वायरल एक सांस संबंधित बीमारी है और ये वायरस आसानी से गले और नाक में घुस सकता है जिससे गले में खराश, नाक बंद और गले में दर्द जैसे लक्षण दिख सकते हैं।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- बढ़ते प्रदूषण में नहीं करना चाहिए ये एक्सरसाइज, पड़ सकती हैं बीमार 

कोविड 19 और आम गले की खराश के बीच कैसे पता करें अंतर? 

कोविड-19 के मरीजों को गला खराब होने की दिक्कत तब होती है जब वायरस किसी तरह से नाक और गले के मेम्ब्रेन्स में एंटर हो जाता है। गला खराब होना और दर्द से जुड़े इस लक्षण को 'फैरिन्जाइटिस' कहा जाता है। ये कोविड के मरीज और नॉर्मल वायरल इन्फेक्शन के मरीज में एक जैसे लक्षण होंगे। हालांकि, दोनों के बीच अंतर सबसे अहम ये है कि कोरोना वायरस में गला खराब होने के साथ आपको अन्य कई लक्षण भी साथ में दिखेंगे और पहले अन्य लक्षण दिख सकते हैं और बाद में गला खराब होगा जबकि अगर कोई अन्य बीमारी हो रही है तो पहले गला खराब होगा और हो सकता है कि उसके अलावा और कोई लक्षण न दिखे।  

कोविड में गला खराब होने के साथ-साथ बुखार, थकान और सूखी खांसी भी होगी जबकि नॉर्मल इन्फेक्शन में जरूरी नहीं कि ये भी हो।  

इलाज- 

अगर आपको कोविड-19 का डर है तो सबसे पहले खुद को आइसोलेट करें और डॉक्टर से परामर्श करें। आम गले का दर्द सही दवाओं से ठीक किया जा सकता है। आपको पर्याप्त मात्रा में पानी भी पीना होगा। इसी के साथ, गर्म पानी के गरारे भी मददगार साबित हो सकता है।  

कोविड-19 हुआ है या नहीं इसका पता तो टेस्ट करके ही चलता है और अगर कोई भी लक्षण दिख रहा हो तो टेस्ट करवाना सही विकल्प है, लेकिन अगर नॉर्मल गले में दर्द है तो खुद को आइसोलेट कर आप इसकी दवा ले सकते हैं और एक-दो दिन रुक सकते हैं। हां, अगर कोई अन्य लक्षण भी दिखता है तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं और साथ ही साथ कोविड की जांच भी करवा लें। ऐसे मौके पर खुद को आइसोलेट करना ही खुद की और दूसरों की सुरक्षा के लिए बहुत जरूरी है।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।