प्रेग्नेंसी हर महिला के लिए एक खूबसूरत अनुभव होती है। हर महिला इस पल का बेसब्री से इंतजार करती है। प्रेग्नेंसी जितनी खुशियां अपने साथ लेकर आती है उससे कहीं ज्यादा वह महिलाओं के शरीर बदलाव लेकर आती है। इससे महिलाओं का केवल शरीर का शेप ही नहीं बल्कि सेहत में भी बहुत सारे बदलाव होते हैं। प्रेग्नेंसी के शुरुआती 4 महीने बेहद क्रूशियल होते हैं। सेहत में सबसे ज्यादा बदलाव इसी वक्त होता है। इस दौरान कई महिलाओं को उल्टी और मिचलाहट की समस्या हो जाती हैं। एक रिसर्च के मुताबिक 65%  महिलाओं को मॉर्निंग सिकनेस और थकावट की परेशानी हो जाती है। ऐसे में उन्हें कई बार उल्टी और मिचलाहट आने लगती है। यह बेहद उलझन भरी परिस्थिति होती है। इस दौरान महिलाओं को खाने की महक, परफ्यूम की स्मेल, स्ट्रेस, बेचैनी, थकावट और विटामिंस की कमी के कारण उन्हें बार-बार उल्टी आती है। ऐसे में हम आपको 3 घरेलू उपचार बता रहे हैं जो आपकी इस समस्या को तुरंत ही सही कर देंगे। 

इसे जरूर पढ़ें: प्रेग्‍नेंसी में पेट दर्द को ना करें इग्‍नोर, हो सकती हैं ये 7 गंभीर समस्‍याएं

home remedies pregnancy vomiting problem

नीबू 

नीबू हर घर की रसोई में सबसे आसानी से उपलब्ध होने वाली चीज है। यह प्रेग्नेंसी के दौरान आने वाली उल्टियों को रोकने में रामबाण साबित हो सकता है। इसकी खुशबू आपको रिलैक्स करती है और आपकी मिचलाहट को कम करती है। आइए इसे इस्तेमाल करने का सही तरीका हम आपको बताते हैं। 

  • आप को अपने दिन की शुरूआत ताजे पानी में नीबू और शहद को निचोड़ कर करनी चाहिए। 
  • आपको नींबू के छिलके को घिस कर बार सूंघना चाहिए। खासतौर पर जब आपको मिचलाहट आए तो आपको इसका तुरंत ही इस्तेमाल करना चाहिए। 
  • आप एक रुमाल में लेमन इसेंशियल ऑयल की कुछ बूंदे डालकर अपने पास रख सकती हैं और जब भी आपको मिचलाहट हो तो आप उसे सूंघ कर फ्रेश फील कर सकती हैं। 

पानी 

प्रेग्नेंसी के दौरान खुद को हाइड्रेटेड रखना महिलाओं के लिए बेहद जरूरी है। मगर, एक साथ ज्यादा पानी पीने की जगह पूरे दिन छोटी-छोटी पानी की सिप लेते रहना चाहिए। आइए हम आपको बताते हैं कि इससे आपको क्या फायदा होगा। 

  • अगर आप भरपूर पानी पीती हैं तो आपको कभी भी मॉर्निंग सिकनेस नहीं होगी। 
  • आप सुबह जैसे ही उठें सबसे पहले पानी पीएं। पहले बिस्तर से उठने के पहले पानी पीएं उसके बाद सो जाएं। खुद को थोड़ा सेटल करें और फिर पानी पीएं। 
  • आपको हर घंटे एक ग्लास पानी पीना चाहिए। यह आपको हाइड्रेटेड रखता है और इससे आपको मिचलाहट कम होती हैं। एक साथ ज्यादा पानी कभी भी न पीऐं। 
 
pregnancy vomiting problem gharelu upchar

अदरक 

अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान उल्टी को अवॉइड करना चाहती हैं तो आपको अदरका का सहारा लेना चाहिए। यह आपको खाना डायजेस्ट करने में मदद करता है और पेट में एसिड नहीं बनने देता। आइए हम आपको बताते हैं कि इसे आप कैसे यूज कर सकती हैं। 

  • आपको अदरका का छोटा सा तुकड़ा लेकर अपने मुंह में रख लेना चाहिए और उसे धीरे-धीरे चूसना चाहिए। ऐसा आप तब ही करें जब आपको मिचलाहट महसूस हो। 
  • आपको अदरक के रस में एक छोटा चम्मच शहद को मिला कर सुबह सबसे पहले लेना चाहिए। यह आपको सुबह बेड से बाहद निकलने के लिए सेटल करेगी। 
  • आपको रोजाना 1 से 2 कप अदरक की चाय पीनी चाहिए। आपको एक छोटा चम्मच अदरक को ग्रेट कर के पानी में उबालना चाहिए। 10 मिनट तक उबालने के बाद और उसमें हनी मिलाएं और इसे धीरे-धीरे सिप करें। 

ध्यान रहे कि यह घरेलू उपचार आपको अगर किसी भी स्थिति में मदद न करें तो अपने चिकित्सक से जरूर सलाह लें। बल्कि इन घरेलू उपचार को अपनाने से पहले भी अपनी चिकित्सक की सलाह जरूर लें।