अक्सर हमें इस बात का अहसास नहीं होता है कि सिर्फ हमारी लाइफस्टाइल के कारण ही हमें कितनी समस्याओं से गुजरना पड़ता है और किस तरह से हमारे लिए नुकसानदेहर होता है ये हमें पता नहीं चलता। हमारे लिए साधारण सी दिखने वाली चीज़ें भी बहुत ज्यादा खराब होती हैं और ये जानना भी जरूरी है कि हमें क्या नहीं करना चाहिए। आयुर्वेद कहता है कि शरीर को हमेशा चलाते रहना चाहिए ताकि हम फिट रहे, लेकिन अक्सर लोग एक गलती कर जाते हैं और वो ये कि उन्हें खाना खाने के बाद क्या करना चाहिए ये नहीं पता होगा। 

आयुर्वेदिक डॉक्टर दीक्षा भावरास (बीएएमएस) से हमने इस बारे में पूछा कि आखिर खाने के बाद की गई कौन सी चीज़ों से शरीर को नुकसान पहुंचता है। उन्होंने हमें बताया कि क्यों खआना खाने के बाद कुछ चीज़ें बहुत नुकसान पहुंचा सकती हैं। 

चलिए जानते हैं कि खाना खाने के तुरंत बाद आपको क्या नहीं करना चाहिए। 

ayurvedic doctor quote

1. सोना-

ये शायद आपकी दादी-नानी भी कहती होगी कि आपको खाना-खाने के बाद सोना नहीं चाहिए। डॉक्टर दीक्षा के मुताबिक अगर आप खाना खाने के तुरंत बाद सोते हैं तो आपके शरीर में कफ (पानी तत्व) बढ़ जाता है और यही नहीं शरीर में फैट भी बढ़ जाता है। शरीर का मेटाबॉलिज्म सोते समय धीमा होता है और इसका मतलब है कि अगर आप खाने के तुरंत बाद सोते हैं तो आपा खाना सही से डाइजेस्ट नहीं होगा। 

क्या करें-

आयुर्वेद के मुताबिक वामकुक्क्षी (बाएं तरफ सोना) सही है और खाना खाने के बाद कम से कम 100 कदम चलें जो डाइजेशन के लिए अच्छा है। 

eating and sleeping

इसे जरूर पढ़ें- बढ़ते कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड से जुड़ी 10 Common समस्याओं का हल एक्सपर्ट से जानें

2. खाने के तुरंत बाद पानी पीना

आयुर्वेद कहता है कि पानी पीना सेहत के लिए अच्छा है, लेकिन खाने के तुरंत बाद पानी पीना सही नहीं है। आप खाने के तुरंत पहले या तुरंत बाद अगर पानी पीते हैं तो ये शरीर के लिए खराब होता है।  

खाने के तुरंत बाद अगर पानी पिया जाए तो ये डाइजेशन में समस्या पैदा कर देता है। डॉक्टर दीक्षा के मुताबिक ये मोटापे का एक अहम कारण है। 

Recommended Video

3. सूरज की रौशनी में जाना-

सूरज की रौशनी में जाना और ब्लड सर्कुलेशन और नर्व्स की गतिविधियों को स्किन की तरफ ले आता है। ऐसे में जरूरी अंगों की तरफ कुछ हद तक ये सप्लाई कम हो जाती है और इनमें से एक पेट भी है और इससे मेटाबॉलिज्म पर असर होता है। इससे जो भी खाना पचता है वो सही मात्रा में शरीर और दिमाग को न्यूट्रिएंट्स नहीं पहुंचा पाता है। इसलिए ये बहुत जरूरी है कि आप खाना खाने के तुरंत बाद सूरज की रौशनी में न जाएं।  

4-8. स्विमिंग, वॉकिंग, ट्रैवलिंग, एक्सरसाइज आदि 

स्विमिंग, तेज़-तेज़ लंबी दूरी तक चलना, गाना, ट्रैवल करना या खाने के बाद एक्सरसाइज करना ये सभी एक ही कैटेगरी में आता है। अब आप सोच रहे होंगे कि खाना खाने के बाद चलना अच्छा होता है पर यहां मना क्यों किया गया है तो मैं आपको बता दूं कि ये लंबी दूरी तक चलने के लिए कहा गया है।  

क्या है इसके नुकसान- 

ये सभी एक्टिविटीज वात दोष को बढ़ाती हैं और डाइजेशन पर असर डालती है। इससे ब्लोटिंग की समस्या, शरीर में न्यूट्रिशन का एब्जॉर्ब न होना जैसी समस्याएं होती हैं। अगर आप खाने के बाद ये सारी एक्टिविटीज करेंगे तो इससे असहजता महसूस हो सकती है।  

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Dr Dixa Bhavsar (@drdixa_healingsouls)

 

9. खाने के तुरंत बाद पढ़ने-लिखने बैठ जाना- 

अब आप सोच रहे होंगे कि इसे लिस्ट में क्यों शामिल किया गया है तो इसके पीछे एक अहम कारण है। दरअसल, खाना खाने के बाद ब्लड सर्कुलेशन और नर्व रिस्पॉन्स आदि सब पेट और आंतों की तरफ जाता है जिससे सही तरह से डाइजेशन हो सकते और इसलिए ऐसी कोई भी गतिविधी जिसमें दिमाग का काफी इस्तेमाल होता है जैसे पढ़ना, लिखना या ऐसा कुछ भी जिसमें दिमाग का बहुत ज्यादा इस्तेमाल होता है वो खाना खाने के तुरंत बाद नहीं करना चाहिए।  

जितना ज्यादा दिमाग चलेगा उसे उतनी ही एनर्जी की जरूरत होगी और इसलिए डाइजेशन में दिक्कत होगी। क्योंकि खाना पच रहा है इसलिए दिमाग की तरफ पर्याप्त मात्रा में सर्कुलेशन पहुंचेगा भी नहीं। यही कारण है कि हम खाना खाने के बाद सोने के बारे में सोचते हैं और थोड़ा डल महसूस करते हैं क्योंकि हमारा दिमाग ठीक से काम नहीं करता है।  

इसे जरूर पढ़ें- अर्थराइटिस के मरीज़ों के लिए फिजियोथेरेपिस्ट के बताए ये 5 टिप्स बन सकते हैं रामबाण 

10. खाना खाने के बाद नहाना- 

आयुर्वेद कहता है कि हर तरह की एक्टिविटी का अपना एक समय है और हर उस एक्टिविटी को उसी समय के अनुसार करना चाहिए। खाना खाने के बाद नहाने के बारे में कहा गया है कि कम से कम 2 घंटे बाद तक लोगों को नहाना नहीं चाहिए।  

शरीर में अग्नि तत्व ही खाना पचाने के लिए जरूरी होता है और इससे हमारे शरीर की कई समस्याएं भी दूर होती हैं। अगर आप नहा लेंगे तो अग्नि तत्व पर असर पड़ेगा। ये डाइजेशन पर सीधे तौर पर असर करेगा और जब आप नहाएंगे तो शरीर ठंडा भी होगा। इससे आपका पाचन तंत्र सही से काम नहीं करेगा।  

इन सभी बातों के बारे में हमने कभी न कभी सुना जरूर था, लेकिन इनके असर के बारे में अब आप जान गए हैं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।