• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

करेले के छिलके फेंके नहीं, दूर करें ये 3 परेशानियां

अगर आप भी करेले के छिलके को बेकार समझकर फेंक देते हैं तो एक बार इस आर्टिकल को जरूर पढ़ लें। 
author-profile
Published -28 Jul 2022, 11:00 ISTUpdated -29 Jul 2022, 11:20 IST
Next
Article
bitter gourd peel  hindi

करेले की कड़वाहट और अजीब उपस्थिति के कारण कई लोग इसे पसंद नहीं करते हैं। लेकिन क्या आप सभी जानते हैं कि इसके कई फायदे हैं। करेला विटामिन बी1, बी2, बी3, और सी का एक उत्कृष्ट स्रोत है। इसमें आयरन और कैल्शियम की मात्रा भी भरपूर होती है। 

आहार फाइबर से भरपूर, इस कड़वी सब्जी में मैग्नीशियम, फोलेट, फास्फोरस, जिंक और मैंगनीज भी होता है। हर दिन मध्यम मात्रा में इसका सेवन करना आपके स्वास्थ्य और त्वचा के लिए चमत्कार कर सकता है। 

लेकिन, अक्‍सर हम इसके छिलकों को बेकार समझकर फेंक देते हैं। अगर आप भी ऐसा ही करती हैं तो इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप ऐसा करना बिल्‍कुल बंद कर देंगी। जी हां इसके छिलकों से आप कई तरह की परेशानियों को दूर कर सकती हैं। इसके छिलकों के फायदे के बारे में हमें डाइटीशियन सिमरन सैनी जी बता रही हैं।   

सिमरन सैनी जी का कहना है, 'करेले का उपयोग कई स्वास्थ्य लाभों के लिए किया जाता है, जैसे डायबिटीज रोगियों के लिए। यह पोटेशियम, विटामिन-सी, आयरन मैग्नीशियम और फाइबर से भरपूर सब्जी है। इसमें एंटी-बैक्‍टीरियल गुण होते हैं। यह डाइजेशन में मदद करता है और यह त्वचा के लिए अच्छा है क्योंकि करेले में विटामिन्‍स और मिनरल्‍स होते हैं।' 

'इसलिए करेले के छिलके सहित, कम मात्रा में जैसे सप्ताह में तीन बार सेवन करने से कई पौष्टिक लाभ मिल सकते हैं। करेले के छिलके का उपयोग फेस पैक में भी त्वचा के संक्रमण से लड़ने में मदद करने के लिए किया जाता है।' 

करेले के छिलके का उपयोग (bitter gourd peel uses)

how to use bitter gourd peel 

त्‍वचा के लिए 

करेले में एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो त्वचा से विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद करते हैं। यह ब्‍लड के शुद्धिकरण में भी मदद करता है जिससे त्वचा की समस्याएं, रक्त विकार कम होते हैं और ब्‍लड सर्कुलेशन में भी सुधार होता है। 

उम्र बढ़ने के संकेतों को रोकने के लिए छिलके का उपयोग किया जा सकता है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर, करेला एजिंग प्रोसेस को धीमा करने में मदद करता है और झुर्रियों और फाइन लाइन्‍स जैसे संकेतों को रोकता है। करेले के छिलकों में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स से लड़ते है। करेले का सेवन सूरज की अल्ट्रावायलेट किरणों से होने वाले नुकसान से भी बचाता है। 

इसके अलावा, करेले के छिलके का इस्‍तेमाल विटामिन ए और सी के साथ एंटीऑक्सीडेंट के रूप में किया जा सकता है, जो त्वचा के लिए अच्छे होते हैं। यह मुंहासों और त्वचा के दाग-धब्बों से लड़ता है। यह दाद, सोरायसिस और खुजली जैसे विभिन्न त्वचा संक्रमणों के इलाज में उपयोगी है। आप करेले बनाते समय इसे छिलके समेत बनाएं। आप चाहे तो करेले को सब्‍जी के रूप में पूर ही बनाएं। करेले को छिलकर खाने से इसके पौष्टिक तत्‍व नष्‍ट हो जात है। 

इसे जरूर पढ़ें: करेला का जूस रोजाना पीने से बॉडी में आते हैं ये 5 बदलाव

करेले के छिलके पराठा

bitter gourd peel ka kaise use kare

आमतौर पर हम हर सब्जी को जरूरत के हिसाब से छीलते हैं, लेकिन कुछ तो भगवान की देन हैं कि उनके छिलके का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। करेला उनमें से एक है। हम इसके छिलके को करेले के टुकड़ों के आधार के रूप में बहुत आसानी से उपयोग करते हैं। आप छिलकों का पराठा बनाकर भी इस्‍तेमाल कर सकती हैं।

सामग्री

  • करेले के छिलके- 1 कप 
  • बारीक कटी प्‍याज- 2 
  • आटा- 1/4 कप 
  • बेसन- 1/4 कप
  • दही- 2 बड़े चम्‍मच 
  • हल्‍दी व लाल मिर्च-  1/2 छोटा चम्‍मच
  • अदरक का पेस्‍ट-  1 छोटा चम्‍मच
  • लहसुन का पेस्‍ट-  1 छोटा चम्‍मच
  • सौंफ व धनिया पाउडर-  1 छोटा चम्‍मच
  • नमक व तेल-आवश्यकतानुसार

विधि

  • करेले को इस्‍तेमाल करने के बाद छिलकों को फेंके नहीं, इसमें नमक लगाकर आधा घंटा रख दें। 
  • फिर इसे अच्‍छी तरह से धो लें।
  • इसके बाद इसे मिक्‍सी में दही के साथ पीसें। 
  • आटा और बची सामग्री डालकर गूथें। 
  • आटे की लोई लेकर इसे बेलें व सेंक कर परोसें। 
  • आप स्‍वादिष्‍ट पराठा तैयार है। यह आपके बच्‍चों को भी बेहद पसंद आएगा। 

Recommended Video

करेले के छिलके का पाउडर

tips to use bitter gourd peel

विभिन्न उपचार लोगों को उनके ब्‍लडशुगर लेवल को कंट्रोल में रखने में मदद कर सकते हैं, जिसमें स्वस्थ जीवन शैली भी शामिल है। एक व्‍यक्ति डाइट सप्‍लीमेंट का भी उपयोग कर सकता है, जैसे कड़वे करेले। कुछ शोधकर्ताओं का मानना है कि करेले में ऐसे पदार्थ होते हैं जो भूख को दबाते हैं और ब्‍लडशुगर लेवल को कमकरते हैं। इस तरह यह इंसुलिन के समान व्यवहार करता है। लेकिन पूरे साल करेले उपलब्‍ध नहीं होता है ऐसे में आप इसके छिलकों का पाउडर बनाकर रख सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें:जिस 1 सब्‍जी का नाम सुनते ही मुंह बना लेती हैं आप, इसके हैं ढेरों फायदे

विधि

    • करेले के छिलकों को बारीक काट लें।
    • फिर इसे एक ट्रे या बड़ी प्‍लेट में फैलाएं। 
    • इसे 3 से 5 दिन के लिए धूप में सूखने के लिए रखें।
    • सुनिश्चित करें कि आपने ट्रे को जाल या पतले कपड़े से ढक दिया है ताकि कीड़े और धूल स्लाइस के संपर्क में न आएं।
    • 2 दिनों बाद इसे दूसरी तरफ पलट दें।
    • 5वें दिन के समय करेले के छिलकों के टुकड़े कुरकुरे हो जाते हैं और आसानी से टूट जाते हैं। 
    • अच्छी तरह से पीसें और करेले के पाउडर को छान लें। 
    • बची हुई मात्रा को मिक्सर में वापस डालें और फिर से पीस लें। 
    • अच्छी तरह से पीस लें और करेले के पाउडर को छान लीजिए। 
    • बची हुई मात्रा को मिक्सर में डालकर पीस लें।
    • 5.1 कप पानी, 1/4 छोटा चम्मच करेले के छिलके पाउडर अच्छी तरह से मिला लें। 
    • सुबह सबसे पहले खाली पेट पिएं। 

उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही कमेंट भी करें। इसी तरह और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।

Image Credit: Freepik & Shutterstock
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।