अक्सर आपने सुना होगा कि ज्यादा चॉकलेट नहीं खानी चाहिए। यहां तक कि आपने भी अपने बच्चों को ज्यादा चॉकलेट खाने पर डांट लगाती होंगी और इसके जुड़े नुकसान पर लंबा चौड़ा भाषण भी दिया होगा। लेकिन अगर हम आपको कहें कि चॉकलेट महिलाओं की हेल्थ के लिए बहुत अच्छी होती है तो शायद आपको यकीन नहीं होगा। लेकिन यह सच है, लिमिटेड मात्रा में चॉकलेट खाना महिलाओं की हेल्थ के लिए बहुत अच्छा होता है। चॉकलेट के सेवन से दिल, गर्भ, स्किन तथा अन्य हेल्थ से जुड़ी कई प्रॉब्लम्स में पॉजिटीव असर देखने को मिलते है।
 
चॉकलेट खाना महिलाओं की हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद हो सकता हैं। प्रेग्नेंसी हो या पीरियड्स प्रॉब्लम या फिर दिल से जुड़ी कोई भी प्रॉब्लम चॉकलेट से महिलाओं की कई हेल्थ प्रॉब्लम्स सुलझ जाती हैं। इसके अलावा चॉकलेट महिलाओं की स्किन के लिए भी बहुत अच्छी होती है। शोध के अनुसार, रेगुलर एक सीमित मात्रा में चॉकलेट खाने वाली महिलाओं को हार्ट प्रॉब्लम का खतरा भी कम होता है। आइए जानें किन कारणों से महिलाओं को अधिक चॉकलेट खानी चाहिए।

Read more: डार्क चॉकलेट खाइए, दिल को हेल्दी बनाइए और कैविटी दूर भगाइए

हेल्दी और ग्लोइंग स्किन 

आपके चेहरे की रंगत और निखार को भी चॉकलेट बढ़ा सकती है। जवां और हेल्दी स्किन पाना हर महिला की चाहत होती हैं। ऐसी चाहत रखने वाली महिलाओं के लिए भी चॉकलेट फायदेमंद हो सकती है। चॉकलेट खाने से चेहरे पर पड़ने वाली झुर्रियों पर रोक लगाई जा सकती है। इसके अलावा, चॉकलेट में पाया जाने वाला एंटी-ऑक्सीडेंट स्किन के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं। इससे स्किन की चमक बढ़ती है और ढीली-लटकती स्किन को आकर्षक खिंचाव मिलता है।

dark chocolate health inside
Image Courtesy: bollywoodhungama.com

पीरियड्स की तकलीफ कम करें

महिलाओं को हर महीने पीरियड्स की तकलीफ से गुजरना पड़ता है। ये कोई बीमारी नहीं है, जिसके लिए दवा खाई जाए, इसलिए डाइट के जरिये ही इस समस्या में राहत ढूंढी जानी जरूरी है। चॉकलेट पीरियड्स में महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती है। चॉकलेट में आराम पहुंचाने वाला एंडोर्फिन होता है जो परेशानी कम करने में हेल्प करता है। इसमें मैग्नीशियम भी मौजूद होता है जिसमें पानी को बॉडी के अंदर रोक कर रखने की शक्ति होती है। इसके अलावा, पीरियड्स में होने वाले चिड़चिड़ेपन में भी डार्क चॉकलेट बहुत फायदेमंद होती है। इसमें मौजूद सेरोटोनिन नामक एंटी-आक्सीडेंट चिड़चिड़पन के लिए अच्छा इलाज साबित होता है।

दिल की बीमारी का खतरा कम

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन की पत्रिका, द बॉस्टन स्टडी में प्रकाशित शोध के अनुसार, जो महिलाएं हफ्ते में कम से कम एक या दो बार डार्क चॉकलेट खाती हैं, उन्हें हार्ट डिजीज होने का खतरा अन्य महिलाओं की तुलना में लगभग तीन गुना कम होता है। शोध के अनुसार, रेगुलर चॉकलेट खाने वाली महिलाओं की तुलना में एक से दो बार चॉकलेट खाने वाली महिलाओं के हार्ट को बहुत फायदा हुआ। इसलिए, अगर आप हार्ट संबंधी प्रॉब्लम का खतरा कम करना चाहती हैं, तो हफ्ते में दो बार चॉकलेट खा सकती हैं।

एक्सरसाइज जैसी फायदेमंद है चॉकलेट

अपने घर और ऑफिस की जिम्मेदारी पूरी करने के बाद जिन महिलाओं के पास एक्सरसाइज के लिए समय नहीं होता, उनके लिए चॉकलेट बहुत फायदेमंद साबित हो सकती है। एक ताजा शोध के अनुसार, सीमित मात्रा में डार्क चॉकलेट खाने से आपकी हेल्थ पर एक्सरसाइज करने जैसा असर पड़ता है। चॉकलेट में मौजूद 'इपिकेटेचीन' नामक तत्व मसल्स को एक्सररसाइज या खेल से जुड़ी एक्टिविटी की तरह एक्टिव करता है।

dark chocolate health inside
Image Courtesy: Pxhere.com

प्रेग्नेंट के लिए फायदेमंद

अगर आप प्रेग्नेंट हैं और चॉकलेट खाना पसंद करती है तो ये आपके लिए अच्छी खबर है। एक रिसर्च के अनुसार, प्रेग्नेंसी में चॉकलेट खाने से महिलाएं खुश रहने के साथ-साथ हेल्दी भी रहती हैं। कोकोआ से बनी चॉकलेट खाने से बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन सही तरह से होने लगता है। इससे भ्रूण के पास मां का पर्याप्त ब्‍लड पहुंचने लगता है। इसके अलावा, चॉकलेट में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स से बॉडी का बचाव करता है। इससे बच्चा भी फ्री रेडिकल्स से फ्री रहता है। इसलिए कोशिश करनी चाहिए कि प्रेग्‍नेंट रेगुलर डाइट में चॉकलेट को शामिल करें।

Read more: महिलाओं के लिए खुशखबरी, जल्‍द प्रेग्‍नेंट होना चाहती हैं तो डार्क चॉकलेट खाएं

स्ट्रेस कम करें

आजकल की लाइफस्टाइल के चलते वैसे तो स्ट्रेस हर किसी की लाइफ का हिस्सा बन गया है, लेकिन कामकाजी महिलाओं के लिए स्ट्रेस आम बात है। जिम्मेदारियों और उम्मीदों की अधिकता उन्हें स्ट्रेस की स्थिति में ले आती है। उनके लिए स्ट्रेस कम करने का सबसे मजेदार तरीका चॉकलेट खाना है। इसमें सेरेटोनिन नाम का केमिकल स्ट्रेस को और शुगर पेन को कम कर तुरंत आपको मेंटल शांति का अहसास कराता है।
इस तरह से डार्क चॉकलेट लिमिटेड मात्रा में खाने से महिलाओं के हार्ट, गर्भ, स्किन, पीरियड्स तथा अन्य हेल्थ प्रॉब्लम्स में पॉजिटीव असर देखने को मिलते है।