मेरी उम्र 40 साल है, बैलेंस डाइट लेने के बावजूद मुझे लगातार पेट की समस्या बन रहती हैं। मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं? तब मेरे पड़ोस में रहने वाली एक आंटी ने मुझे बताया कि बैलेंस डाइट लेना हेल्थ के लिए अच्छा रहता है, लेकिन अगर आप खाना चबाकर अच्छे से नहीं खाएंगी या खाने के साथ लगातार पानी पीएंगी तो खाना ठीक से हजम न होने के कारण आपको पेट की कई तरह की समस्यााएं हो सकती हैं। इतना ही नहीं खाना अच्छे से चबाकर खाने से कब्ज दूर होती है, दांत मजबूत होते हैं, भूख बढ़ती है और पेट की बीमारियों तो आपको छूने भी नहीं पाती हैं। मैंने तो उनकी बात मानकर खाना खाते समय कुछ बातों का ध्यान रखना शुरू कर दिया है। आइए विस्तार से जानें कि खाना खाते समय हमें किन-किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें: टीनएजर्स रखेंगी अपनी डाइट का ख्याल, तो हमेशा रहेंगी हेल्‍दी

चबाकर खाएं

ज्‍यादातर लोग खाने को जल्‍दी-जल्‍दी यानि 10-15 बार या इससे भी कम समय में चबाकर खा लेते हैं। जबकि माना यह जाता है कि पेट को कम लेकिन दांतों को ज्‍यादा मेहनत करवानी चाहिए। वजन कम करने वाल लोगों के लिए यह जरूरी है कि खाने को कम से कम 30-35 बार तक चबाकर खाएं। अच्‍छे से चबाकर खाने से कब्ज दूर, दांत मजबूत, भूख का बढ़ना और पेट की कई बीमारियां नहीं होती। हालांकि पुरूष की अपेक्षा महिलाएं अपना खाना ज्यादा चबाकर खाती हैं।

food mistake health inside

बैठकर खाएं

आजकल लोगों के पास इतना भी समय नहीं है कि वह बैठकर चैन से खाना खाएं। लेकिन भोजन बैठकर ही खाएं, क्योंकि चलते-चलते खाना खाने से डाइजेशन पर बुरा असर पड़ता है। बैठकर खाते समय हम सुखासन पॉजिशन में होते हैं जिससे कब्ज, मोटापा, एसिडिटी आदि पेट संबंधी बीमारियों से बचे रह सकते हैं।

भूख लगने पर ही खाएं

कुछ लोग स्वाद के चक्‍कर में बार-बार खाना खा लेते हैं। जी हां पहले का खाना पचता नहीं है कि वह दोबारा खाने लग जाते हैं। ऐसा करने से पेट की बीमारियां शुरू होने लगती हैं और खाना अच्छे से पच नहीं पाता है। इसलिए पौष्टिक आहार भी भूख लगने पर ही खाएं।

food mistake health inside

खाने के बीच में पानी पीने से बचें

भोजन के साथ या तुरंत पानी पीने से डाइजेशन पर बुरा असर होता है और आपका खाना भी अच्‍छे से डाइजेस्‍ट नहीं होता है। इसलिए खाने के आधे या एक घंटे पहले या बाद ही पानी पिएं।

इसे जरूर पढ़ें:  इन 5 आसान डाइट ट्रिक्स को अपनाएं और हेल्दी लाइफ बिताएं

गैप में खाएं खाना

बार-बार खाने से बचें। जी हां खाने के बीच में कम से कम 3 घंटे का अंतराल होना चाहिए। ताकि भोजन को अच्‍छे से पचने में पूरा समय मिल सकें। रात के भोजन के पचने में समय लगता है इसलिए डिनर जल्दी कर लेना चाहिए। रेगुलर दिन में तीन बार खाने से ना केवल आपका डाइजेशन अच्‍छा रहता है बल्कि एकाग्रता भी बढती है।

एक्सरसाइज के तुरंत बाद न खाएं

लोगों को एक्‍सरसाइज करने के बाद इतनी तेज भूख लगती हैं कि वह वर्कआउट के तुरंत बाद खाने लग जाते हैं। लेकिन वर्कआउट या एक्सारसाइज करने के तुरंत बाद खाना न खाएं। शरीर को नार्मल टेंपरेचर में आने दें उसके बाद ही खाना खाएं।

washing hands health inside

खाने से पहले हाथ धो लें

सबसे जरूरी और आखिरी बात यह है कि पोषक तत्‍वों से भरपूर खाना खाने का भी कोई फायदा आपकी बॉडी को नहीं होगा। अगर आप खाना खाने से पहले अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरीके से धो नहीं लेती हैं। क्‍योंकि हाथ में मौजूद बैक्टीरिया आपके खाने के साथ आपकी बॉडी  में प्रवेश कर आपकी हेल्‍थ को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
अगर आप अच्‍छी हेल्‍थ चाहती हैं तो हेल्‍दी डाइट के साथ-साथ खाने के इन 7 नियम को अपनाना भी बेहद जरूरी है।