By Smriti Kiran 08 September 2021 www.herzindagi.com

हरतालिका तीज
पर न करें ये गलतियां

हिंदू धर्म में हरतालिका तीज व्रत का बड़ा महत्व है। इस दिन विवाहित महिलाएं पति की लंबी उम्र की कामना के लिए व्रत रखती हैं। ऐसे में कोई गलती न हो, यह ख्याल रखना बहुत जरूरी है। आइए जानते हैं हरतालिका तीज पर क्या गलती नहीं करनी चाहिए।

एक बार रख लिया व्रत तो

हरतालिका तीज का व्रत अगर एक बार रख लिया तो इसको बीच में नहीं छोड़ना चाहिए। एक बार यह व्रत रखने के बाद माना जाता है कि इसे जीवनभर किया जाए।

गुस्सा करने से बचें

हरतालिका तीज के दिन महिलाओं को गुस्सा नहीं करना चाहिए। व्रत में गुस्सा आना अशुभ माना जाता है। महिलाएं इस दिन भगवान शिव और माता पार्वती की मन से आराधना करें।

नींद ना लें

ऐसा माना जाता है कि व्रत वाले दिन महिलाओं को पूरी रात जागकर भगवान शिव की आराधना करनी चाहिए। इस व्रत में महिलाओं को नींद लेने से बचना चाहिए।

निर्जल व्रत

इस दिन महिलाओं को पानी पीने से परहेज करना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि यह व्रत निर्जल करना चाहिए।

अगर व्रत नहीं रखा है तो

कई स्त्रियां इस व्रत को नहीं रखती हैं। इसके बावजूद उन्हें कई चीजों का ख्याल रखना चाहिए जैसे कि इस दिन मांस या मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए।

पूजा-पाठ करें

इस दिन महिलाओं को शांत मन से पूजा-पाठ में भाग लेना चाहिए। मन में किसी भी तरह का नकारात्मक विचार ना लाएं और दूसरों का अपमान करने से बचें।

लड़ाई-झगड़े से रहें दूर

व्रत के दौरान लड़ाई-झगड़े से दूर रहना चाहिए। यह व्रत बहुत ही फलदायी माना जाता है। इस दौरान किसी भी तरह के लालच या छल-कपट से बचना चाहिए।

कपड़ों के कलर का रखें ध्यान

इस व्रत में काले और सफेद कपड़ों को भूल से भी नहीं पहनना चाहिए क्योंकि हमारे हिंदू धर्म में पूजा-पाठ और व्रत में सुहागिनों का इस कलर के कपड़े पहनना अशुभ माना जाता है।

साफ-सफाई रखें

साफ-सफाई के साथ अच्छे और खुश मन से व्रत से संबंधित सारे काम करने चाहिए। इससे व्रत का पूरा फल मिलता है।

काले कलर की चूड़ियां न पहनें

व्रत के दिन काले रंग की चूड़ियां नहीं पहननी चाहिए। यह अशुभ माना जाता है। इस व्रत में हरे कलर की चूड़ियां पहनना शुभ माना जाता है।

व्रत कथा सुनें

हरतालिका तीज व्रत रखने वाली सुहागिन महिलाओं को इस दिन व्रत कथा जरूर सुननी चाहिए। तीज कथा के बिना इस व्रत को पूरा नहीं माना जाता है।

पारण मुहूर्त में खोलें व्रत

तीज व्रत पारण मुहूर्त से पहले नहीं खोलना चाहिए। हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार किसी भी व्रत का पारण हमेशा उसके शुभ मुहूर्त में ही करना चाहिए।

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें herzindagi.com से।