Janmashtami 2022- ऐसे करें बाल-गोपाल का श्रृगांर


Smriti Kiran
www.herzindagi.com

    इस साल देशभर में कृष्ण जन्माष्टमी 30 अगस्त को मनाया जाएगा। अगर आप भी इस दिन अपने बाल-गोपाल को सजाकर जन्माष्टमी का पर्व खास बनाना चाहते हैं तो फॉलो करें ये टिप्स-

मुर्ति

    जन्माष्टमी पर ज्यादातर लोग कृष्ण के बाल स्वरूप की स्थापना करते हैं, लेकिन आप अपने मन और श्रद्धा के अनुसार कृष्ण के किसी भी स्वरूप की स्थापना कर सकते हैं।

राधा-कृष्ण

    प्रेम और दाम्पत्य जीवन में सुख व शांति के लिए आप राधा-कृष्ण की साथ वाली मुर्ति स्थापित करें और खूब अच्छी तरह से सजाकर पूजा-पाठ करें।

बाल-गोपाल

    संतान सुख के लिए जन्माष्टमी के दिन कृष्ण के बाल स्वरूप की स्थापना करें और खूब प्यार से उसे सजाएं। फिर पूजा-पाठ करें।

बंसी वाले कृष्ण

    जन्माष्टमी के दिन कृष्ण की बंसी के साथ वाली मुर्ति स्थापित करने से मन की हर मनोकामनाएं पुर्ण होती हैं। साथ ही शंख और शालिग्राम की भी स्थापना करें।

कान्हा जी को ऐसे करें तैयार-

  • सबसे पहले गोपाल जी को सुंदर वस्त्र पहनाएं
  • फिर उन्हें सिर पर पगड़ी पहनाएं और उसमें मोर पंख जरूर लगाएं
  • अब कान्हा जी के हाथों में कड़े डालें और पैरों में पाजेब पहनाएं
  • सुंदर फूल और मोती से बना ठाकुर जी को माला पहनाएं
  • अब उनके हाथों में मोर पंख लगी हुई बांसुरी लगाएं
  • फिर ठाकुर जी को तिलक लगाएं और फूल चढ़ाएं

ठाकुर जी का झूला-

    मार्केट से एक छोटा झूला लाएं। झूले के बाहरी कोनों पर झालर और अंदर मखमल या रेशमी की चादर लगाएं। फिर एक छोटा सा तकिया और गद्दा लगाकर कान्हा जी को झूले पर बिठाएं।

प्रसाद-

    जन्माष्टमी के प्रसाद में पंचामृत को जरूर शामिल करें, जिसमें तुलसी दल डाला गया हो। साथ ही गोपाल जी को मेवा, माखन और मिसरी का भोग लगाएं।

    स्टोरी अच्छी लगी हो तो लाइक और शेयर करें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए क्लिक करें herzindagi.com