कंट्रोलिंग पार्टनर के साथ ऐसे करें डील


Ravi Kumar Gupta
www.herzindagi.com

    कंट्रोलिंग पार्टनर के साथ रिश्ता चला पाना आसान नहीं होता। अगर आप भी ऐसे रिलेशनशिप में हैं तो उससे डील करने के बारे में जान लें।

    हालांकि, कई कपल्स के रिश्ते इसी वजह से खत्म हो जाते हैं। लेकिन आप अगर उसे समझाना या संभालना चाहती हैं तो कुछ बातें समझ लें।

कंट्रोलिंग पार्टनर का स्वभाव

    कंट्रोलिंग पार्टनर का स्वभाव हठी यानी जिद्दी किस्म का होता है। वे अपने आगे किसी की चलने नहीं देते हैं, अपने प्यार तक की नहीं सुनते।

कंट्रोलिंग पार्टनर के लक्षण

    कंट्रोलिंग पार्टनर सिर्फ अपने मन की करते हैं और अपनी पार्टनर को भी इशारों पर नचाने की कोशिश करते रहते हैं।

समझाने की कोशिश करें

    अपने पार्टनर को समझाने की कोशिश करें कि कंट्रोलिंग करना अच्छी बात नहीं। अगर वह समझता है तो ठीक अन्यथा आगे आपकी इच्छा।

रिश्ते में रखें प्राइवेसी

    रिलेशनशिप में प्राइवेसी बहुत जरूरी है। अगर आप अपने पार्टनर को ये रिलेशनशिप रूल समझा पाएंगी तो शायद अच्छा होगा।

ना कहने से डरे नहीं

    कंट्रोलिंग पार्टनर को रोकने के लिए उसे ना भी कहें। आप उसकी हर बात को सिर झुकाकर ना मानें। रिश्ते में ना के लिए भी जगह रखें।

अपनी खुशी का रखें ख्याल

    आपको अपने पार्टनर के साथ-साथ अपनी खुशी का ख्याल भी रखना होगा। इसलिए कभी भी खुद की इच्छा मारकर कुछ स्वीकार ना करें।

गलत को स्वीकार ना करें

    कंट्रोलिंग पार्टनर गलत सही के बारे में नहीं सोचते, वे सिर्फ मनमानी करते हैं। मगर आपको गलत स्वीकार नहीं करना चाहिए।

खुद लें अपने फैसले

    साथ ही आपको अपने फैसले स्वयं लेने चाहिए। आप हर फैसले अपने पार्टनर को पूछकर ना लें।

रिलेशनशिप रूल्स बनाएं

    आप कंट्रोलिंग पार्टनर से निजात पाने के लिए रिलेशनशिप रूल्स बना सकती हैं। इससे आपको फायदा मिल सकता है।

दूरी बनाकर देखें

    अगर आपका पार्टनर समझने को तैयार नहीं है तो उससे दूरी बनाकर देखें। शायद आपको इस बात का अहसास हो जाए!

रिलेशनशिप एक्सपर्ट की लें मदद

    अगर आप संभाल नहीं पा रही हैं तो इसके लिए रिलेशनशिप एक्सपर्ट की मदद लें। शायद वहां आपको हेल्द मिल जाए।

    इस तरह से आप अपने कंट्रोलिंग पार्टनर से डील कर सकती हैं। ऐसी ही अन्य स्टोरीज के लिए क्लिक करें herzindagi.com