दिल्ली के इन 8 रेस्टोरेंट में लें खाने का मजा


Smriti Kiran
www.herzindagi.com

    देश की राजधानी दिल्ली में आप स्ट्रीट फूड से लेकर लैविश रेस्टोरेंट, हर जगह के खाने का मजा ले सकते हैं। यहां आपको तरह-तरह के डिशेज मिल जाएंगे।

    लेकिन क्या आपको मालूम है कि यहां स्थित कई रेस्ट्रोरेंट सालों पुराने हैं, कुछ तो आजादी से पहले के भी हैं। आइए जानें उन रेस्ट्रोरेंट के बारे में-

मोती महल

    1947 में निर्मित भारत का पहला रेस्ट्रोरेंट मोती महल अब तक चला आ रहा है। कहते हैं भारत में तंदूरी लाने वाला होटल यही है। यहां का बटर चिकन स्वाद में बेहद लाजबाव होता है।

करीम रेस्ट्रोरेंट

    1913 से यह रेस्ट्रोरेंट मीट लवर्स के लिए काफी मशहूर रहा है। जामा मस्जिद क्षेत्र में स्थित इस होटल में आप निहारी, बिरयानी, मटन कोरमा और चिकन कबाब आदि चटकारे लगाकर खा सकते हैं।

गुलाटी

    1959 से ये रेस्टोरेंट मुगलई स्वाद के लिए काफी मशहूर रहा है। अगर आप भी मुगलई खाने के शौकीन हैं तो एक बार यहां जाएं। यहां के बटर चिकन, बिरयानी और चिकन रारा बहुत फेमस है।

खान चाचा

    अगर आप भी कबाब और रोल के दीवाने हैं, तो दिल्ली के कनॉट प्लेस के स्थित खान चाचा र्स्ट्रोरेंट जरूर जाएं। यह 1972 में ओपन किया गया था। यहां के चिकन टिक्का रोल और पनीर रोल काफी फेमस है।

यूनाइटेड कॉफी हाउस

    1942 में बना यूनाइटेड कॉफी हाउस खाने के साथ-साथ, इंटीरियर भी काफी अट्रैक्टिव है। यहां आपको इंडियन से लेकर यूरोपीयन फूड सब कुछ मिल जाएगा।

इंडियन कॉफी हाउस

    इंडियन कॉफी हाउस को आईसीएच के नाम से जाना जाता है। इसे 1957 में स्थापित किया गया था। यह जगह किफायती और काफी अच्छी है। आप भी यहां कॉफी का मजा ले सकते हैं।

एम्बेसी रेस्टोरेंट

    कनॉट प्लेस में स्थित एम्बेसी रेस्टोरेंट 1948 में खुला था। यहां मिलने वाले स्वादिष्ट व्यंजनों में चिकन सबसे फेमस है। ज्यादातर यहां सेलिब्रेटी आते हैं।

काके दा होटल

    दिल्ली के कनॉट प्लेस में स्थित काके दा होटल 1931 में खुला था। यहां के चिकन सीक कबाब, ब्रेन करी और दाल मखनी काफी फेमस हैं। लोग यहां लाइनों में खड़े होकर खाने का इंतजार करते हैं।

    स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे लाइक और शेयर करें। इसी तरह की अन्य जानकारी के लिए क्लिक करें herzindagi.com