चटनी खाने के जबरदस्त फायदे


Ravi Kumar
www.herzindagi.com

    भारत में चटनी खाने वालों की कमी नहीं है। लेकिन शायद आपको ये पता नहीं है कि स्वाद के लिए खाई जाने वाली चटनी के कई फायदे भी हैं।

चटनी पर रिसर्च

    जर्नल ऑफ फूड साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने 2018 में अपनी एक स्टडी में बताया कि, भारतीय चटनी को खाने के कई लाभ हैं। चलिए जानते हैं इन्हें खाने से क्या लाभ मिलते है?

पुदीना-धनिया चटनी

    पुदीना और धनिया दोनों विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। साथ ही इनमें पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है। लहसुन, हरी मिर्च और नमक भी इसके गुण को बढ़ाने का काम करते हैं

लहसुन और हरी मिर्च की चटनी

    हरी मिर्च में विटमिन-ए, सी, बी6, आयरन, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट मिलते हैं। वहीं, लहसुन में एलारसिन कंपाउंड होता है। इसमें पाचन, बीपी, शरीर में सूजन और कॉलेस्ट्रॉल कंट्रोल क

टमाटर की चटनी

    टमाटर विटामिन-सी, बी, ई और पोटैशियम जैसे खनिजों से भरपूर होते हैं। इसमें लाइकोपीन नामक एक बायोएक्टिव यौगिक भी होता है। लाइकोपीन आपकी कोशिकाओं को नुकसान से बचा सकता है।

टमाटर की चटनी में क्या ना मिलाएं?

    टमाटर की चटनी खाना काफी फायदेमंद हो सकता है लेकिन सुनिश्चित करें कि आप इसमें कोई चीनी नहीं मिलाते हैं। भले स्वीटनेस के लिए गुड़ या खजूर का उपयोग करें। हरी मिर्च और नम

नारियल की चटनी

    नारियल में फाइबर, मैंगनीज, आयरन, सेलेनियम और फास्फोरस उच्च मात्रा में होते हैं। नारियल की चटनी बच्चों में इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग करता है। बैड फैट को कम और ब्लड प्लेटलेट्स बढ़ाने में मदद करत

नारियल की चटनी बनाते वक्त ध्यान रखें

    नारियल की चटनी बनाते वक्त उसमें कभी भी मिर्ची की मात्रा अधिक ना करें। इसको बनाते वक्त ये बात ध्यान रखें।

मूंगफली की चटनी

    मूंगफली में प्रोटीन, विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सीडेंट हैं। स्वाद के साथ-साथ ये सारे पोषक तत्व आपको खाने से मिल सकते हैं।

मूंगफली की चटनी में क्या मिलाएं?

    मूंगफली की चटनी में टमाटर, प्याज और लहसुन भी मिलाए जाते हैं, जो मिलकर इसके स्वाद और पोषक तत्वों को बढ़ाने का काम करते हैं।

इमली की चटनी

    इस खट्टे फल में विटामिन-बी1, बी2, बी3 और बी5 के साथ-साथ मैग्नीशियम, पोटैशियम, आयरन, कैल्शियम और फास्फोरस मिलते हैं।

इमली की चटनी में क्या मिलाएं?

    इमली की चटनी में अदरक और हींग भी शामिल होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट को बढ़ाते हैं। इसमें चीनी की बजाय गुड़ या खजूर मिला सकते हैं।

कच्चे आम की चटनी

    कच्चे आम विटामिन-ए, सी और ई से भरपूर होते हैं। चटनी के रूप में सेवन करके इन पोषक तत्वों को प्राप्त किया जा सकता है।

कच्चे आम की चटनी में क्या मिलाएं?

    इसको आप तीखी और स्वादिष्ट मीठी-खट्टी चटनी बनाकर खा सकते हैं। इस चटनी में मिठास के लिए गुड़ या ब्राउन शुगर मिलाएं और तीखेपन के लिए हरी मिर्च व लहसुन मिला सकते हैं।

कैसे करें सेवन?

    आर्युवेदिक डॉक्टर अर्जुन के अनुसार, चटनी को नाश्ते के वक्त या दोपहर के खाने के साथ खाएं, लेकिन बहुत अधिक मात्रा में खाने से बचें।

    इस तरह से आप समझ गई होंगी कि इन्हें खाने के कितने फायदे हैं। आप चटनी लवर्स तक इस स्टोरी को पहुंचाएं। ऐसी स्टोरी के लिए पढ़ते रहें herzindagi.com