बालासन करने के बेशुमार फायदे


Megha Jain
2023-01-10,10:07 IST
www.herzindagi.com

    बालासन या हैप्पी बेबी पोज की पोजिशन बच्चे की तरह दिखती है। इस योगा को करने से आराम मिलने के साथ-साथ कई हेल्थ बेनिफिट्स भी होते हैं। ये बेहद ही आसानी से की जाने वाली मुद्रा है। चलिए, इस योगासन के बेनिफिट्स के बारे में योगा मास्टर, फिलांथ्रोपिस्ट, धार्मिक गुरू और लाइफस्टाइल कोच ग्रैंड मास्टर अक्षर जी से जानते हैं -

रीढ़ की हड्डी करे मजबूत

    ये पोज स्ट्रेच करके रीढ़ की हड्डी शांत होती है। ये रीढ़ की हड्डी के एरिया में स्ट्रेस से राहत देते हुए मजबूत और लचीली कमर बनाने में मदद करता है।

हेल्दी डाइजेशन

    इस योग का अभ्यास पेट की मालिश करके, बेकार पदार्थों को बाहर निकालने और खाए गए भोजन से पोषक तत्वों के सही अवशोषण को बढ़ावा देता है। इससे डाइजेस्टिव सिस्टम ठीक रहता है।

तनाव और थकान से छुटकारा

    इस योग को करने से स्ट्रेस, चिंता और थकान करने में मदद मिलती है। ये शांत होने में मदद करता है और कायाकल्प का अनुभव कराता है।

स्ट्रेचिंग में मददगार

    इसे करने से हिप्स, थाईज और अंदर के हिस्से पर स्ट्रेच आता है। इस योग से बॉडी के टाइट पार्ट्स को खोलने में मदद मिलती है। ये रीढ़ और पीठ के लिए फायदेमंद है।

दर्द में दे राहत

    इस योग को करने से पीठ के निचले हिस्से में दर्द तनाव से राहत मिलती है। इस मुद्रा से पीठ के निचले हिस्से में दर्द और दूसरे तनाव की शुरुआत कम हो जाती है।

सेक्रम को करे रिलैक्स

    सेक्रम रीढ़ और ऊपरी शरीर को सहारा देकर श्रोणि को मजबूत और स्थिर बनाता है। ये मुद्रा ऊपरी और निचली बॉडी को हेल्दी रखने के लिए सेक्रम को आराम देती है।

हैमस्ट्रिंग स्ट्रेच

    इस योग को करने से हैमस्ट्रिंग को स्ट्रेच करने में मदद मिलती है। ये किसी भी तरह के शारीरिक तनाव के जोखिम को रोकती है और मसल्‍स को मजबूत बनाती है।

    अगर आपको भी ठंड के मौसम में इस तरह की परेशानियां रहती हैं तो, बालासन जरूर करें। स्टोरी अच्छी लगी तो लाइक और शेयर करें। इससे जुड़ी अन्य जानकारी के लिए यहां क्लिक करें herzindagi.com।