By Smriti Kiran

12 फेमस सिल्क साड़ियों के बारे में जानें

13 September 2021 www.herzindagi.com

भारत में कई प्रकार की साड़ियां हैं, लेकिन सिल्क साड़ी हमेशा भारतीय महिलाओं की पहली पसंद रही है। कोई फंक्शन हो या शादी समारोह सिल्क की बात ही कुछ और होती है। आइए जानते हैं 12 सबसे फेमस सिल्क साड़ियों के बारे में।

# चंदेरी सिल्क साड़ी

चंदेरी अपने हैंडलूम फैब्रिक के लिए चर्चित है। ये ट्रेडिशनल और मॉडर्न दोनों फैशन में फेमस है। आजकल चंदेरी फैब्रिक के दुपट्टे, कुर्ते और वेस्टर्न टूनिक्स भी काफी पसंद किए जाते हैं।

# बनारसी सिल्क साड़ी

बनारसी साड़ी भारत की बेहतरीन साड़ियों में एक है, जिसे उसके बारीक बुने हुए कारीगिरी के लिए जाना जाता है। अलग-अलग प्रकार की बनारसी साड़ी होते हैं, जिन्हें तंचोई, ऑर्गेंज़ा और कटान के नाम से जाना जाता है।

# असम सिल्क साड़ी

असम के सिल्क को मुगा सिल्क के नाम से जाना जाता है, इसका उपयोग पारंपरिक असमिया पोशाक मेखला चादर और असम सिल्क साड़ियों जैसे उत्पादों में किया जाता है।

# संबलपुरी सिल्क साड़ी

संबलपुरी साड़ी एक पारंपरिक हाथ से बुनी हुई साड़ी होती है। इसे स्थानीय रूप से साधी कहा जाता है। इसका उत्पादन ओडिशा के संबलपुर, बलांगीर, बरगढ़, बौध और सोनपुर जिलों में होता है।

# कांजीवरम सिल्क साड़ी

कांजीवरम की सिल्क साड़ी, आम तौर पर शहरी भारतीय महिलाओं की पसंद मानी जाती है। भारत के कई हिस्सों में इसे शादी समारोह के लिए सबसे शानदार माना जाता है।

# बलूचरी सिल्क साड़ी

बलूचरी साड़ी की उत्पत्ति बंगाल में टसर रेशम से हुई थी। बालूचरी साड़ियां पश्चिम बंगाल के विष्णुपुर व मुर्शिदाबाद में बनती हैं। ये भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में मशहूर है।

# कोनराड सिल्क साड़ी

कोनराड सिल्क साड़ी को टेम्पल साड़ी के रूप में भी जाना जाता है, जिसे ज्यादातर मंदिर देवताओं के लिए बुना जाता है। यह दक्षिण भारतीय रेशम साड़ियों की पारंपरिक पहचान है।

# पैठानी सिल्क साड़ी

पैठानी सिल्क साड़ी औरंगाबाद के पैठण शहर में बहुत महीन रेशम से बनाई जाती है। पैठानी साड़ियों को भारत की सबसे बेहतरीन और सबसे अमीर साड़ियों में से एक माना जाता है।

# पटोला सिल्क साड़ी

पाटन में बनी पटोला साड़ी, आमतौर पर रेशम से बनी होती है और उच्च वर्ग की महिलाओं में बहुत लोकप्रिय है। ये साड़ी बहुत महंगी होती है और हाथियों, फूलों और तोतों के डिजाइन के साथ मुद्रित होती हैं।

# मैसूर सिल्क साड़ी

यह साड़ी कर्नाटक के मैसूर जिले में बनाया जाती है और शहतूत रेशम द्वारा निर्मित होती है। यह अपनी मुलायम बनावट के लिए जानी जाती है।

# बोमकाई सिल्क साड़ी

बोमकाई सिल्क साड़ी को सोनपुरी साड़ी के नाम से भी जाना जाता है। इसका उत्पादन सुबरनापुर जिले में होता है। इसे मुख्य रूप से सुबरनापुर जिले के भुलिया समुदाय द्वारा तैयार किया जाता है।

# भागलपुरी सिल्क साड़ी

भागलपुरी सिल्क साड़ी रेशम के कीड़ों से बने टसर सिल्क से बनाई जाती है। इसे तसर, मालवरी व मूंगा के धागों को एक साथ मिलाकर तैयार किया जाता है।

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर शेयर करें और साथ ही इस तरह की अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जूड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट herzindagi.com के साथ।