मसाला चाय के फायदे

By Smriti Kiran 28 September 2021 www.herzindagi.com

ज्यादातर लोगों के दिन की शुरुआत एक कप गर्म चाय के साथ ही होती है। कुछ लोग तो बोलते हैं कि सुबह आंख खुलते ही चाय न मिले, तो पूरा दिन आलस भरा रहता है।

कई लोग आलस दूर करने के लिए तो कई लोग तनाव और थकान को दूर करने के लिए चाय पीते हैं। आज चाय की कई वैरायटी उपलब्ध हैं।

मसाला चाय क्यों है बेहतर

इसमें मौजूद सभी मसाले जैसे लौंग, इलायची, अदरक, तुलसी और चायपत्ती के गुण इस चाय के फायदे को और बढ़ा देते हैं।

पाचन शक्ति बढ़ाए

इसमें इस्तेमाल होने वाले मसालों से पैंक्रियाज में एंजाइम्स स्टिमुलेट होते हैं, जो पाचन को सही रखने में मदद करते हैं।

सूजन को करे दूर

अदरक और लौंग की मौजूदगी होने के कारण मसाला चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी वाले गुण आ जाते हैं, जो सूजन व दर्द को दूर करने में मदद करता है।

शुगर लेवल को बैलेंस करे

मसाला चाय शुगर लेवल को बैलेंस करने में मददगार होती है। इसके साथ ही यह मीठा खाने की लालसा को भी कम करती है।

थकान मिटा दे

इसमें मौजूद टैनिन शरीर को राहत देने के साथ ही उसे फिर से सामान्य करने में मदद करता है, जिससे थकान दूर हो जाती है।

जुकाम-खांसी में दे आराम

मसाला चाय में मौजूद एंटीऑक्सिडेंटस और फाइटोकेमिकल इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करते हैं।

दर्द में दे राहत

इसमें मौजूद अदरक और दालचीनी हार्मोनल असंतुलन को बैलेंस करता है। इससे पीएमएस से जुड़े दर्द भी कम होते हैं।

हृदय की समस्या दूर करें

इसमें डलने वाली काली मिर्च में मौजूद पिपरीन नामक सक्रिय एंटीऑक्सीडेंट सेल्स में ऑक्सीडेटीव नुकसान को रोकने में मदद करता है।

ज्यादा सेवन से नुकसान

इसके ज्यादा सेवन से एलर्जी, सीने में जलन, एसिडिटी, अलसर और खट्टी डकार की समस्या हो सकती है।

डॉक्टर की सलाह लें

मसाला चाय में उपयोग होने वाले मसाले आधुनिक दवाओं के प्रभाव पर असर डालते हैं। इसलिए आधुनिक दवाइओं के साथ मसाला चाय का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

प्रेग्नेंट महिलाएं मसाला चाय पीने से बचें

प्रेग्नेंट महिला को ज्यादा मसाला चाय पीने से बचना चाहिए क्योंकि यह हार्मोन्स को असंतुलित कर सकती है।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट herzindagi.com के साथ।