रागी खाने के फायदे और नुकसान

By Smriti Kiran
01 September 2021
www.herzindagi.com

अनेक प्रकार के पोषक पदार्थों से युक्त रागी एनर्जी का एक अच्छा स्त्रोत है। रागी के फायदे तो बहुत हैं, लेकिन इससे होने वाले नुकसान न के बराबर। आइए पहले इसके फायदे जानते हैं।

# फाइबर और आयरन से भरपूर

रागी फाइबर और आयरन का खजाना है। इससे शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी नहीं होती है। साथ ही ये शरीर में खून की मात्रा को भी संतुलित किये रहता है।

# कैल्शियम का बेहतरीन स्त्रोत

किसी अन्य अनाज की तुलना में रागी के आटा में अधिक कैल्शियम होता है। एक अनुमान के मुताबिक, 100 ग्राम रागी में 344 मिलीग्राम कैल्शियम होता है जो हड्डी और दांतों को मजबूत बनाता है।

# वजन घटाने में मददगार

अगर आप वजन कम करने के लिए कम वसा वाले आहार की तलाश कर रहे हैं तो रागी एक बेहतर ऑप्शन है। आप चाहें तो रागी को रोटी या चावल की जगह उपयोग कर सकते हैं। प्रोटीन और फाइबर से युक्त होने के कारण ये वजन घटाने में मददगार है।

# डायबिटीज में लाभकारी

डायबिटीज से ग्रस्त व्यक्ति अपने शुगर में ग्लूकोज के स्तर को कम करने के लिए रागी का उपयोग कर सकते हैं। पॉलीफेनोल और फाइबर की उच्च मात्रा होने के कारण यह शुगर लेवल को नियंत्रित करता है।

# अंकुरित रागी से करें एनीमिया दूर

रागी में आयरन उच्च मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा अंकुरित रागी में विटामिन-सी भी होता है, जिसे खाने से आयरन बढ़ता है जिससे शरीर में खून की कमी नहीं होती है। आप इसका सेवन डोसा और बॉल्स के रूप में भी कर सकते हैं।

# कोलेस्ट्रॉल कम करने में सहायक

रागी में एमिनो एसिड मौजूद होते हैं जो लिवर से अतिरिक्त वसा निकालकर कोलेस्ट्रोल का स्तर कम कर देते हैं। इसमें थ्रेओनीन एमिनो एसिड भी होता है, जो लिवर में वसा जमने नहीं देता है।

# ब्लड प्रेशर को करे नियंत्रित

हरा और कच्चा रागी खाने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है क्योंकि गेंहू या चावल के आटे की तुलना में रागी में पॉलिफेनॉल्स और फाइबर की मात्रा अधिक होती है और इसका ग्लाइसिमिक इंडेक्स भी कम होता है।

# प्रोटीन का बेहतरीन सोर्स

शरीर की सामान्य गतिविधियों के लिए प्रोटीन बहुत जरूरी है और रागी प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत है। रागी शरीर में नाइट्रोजन संतुलन के लिए भी सहायक है।

# रागी का दलिया बच्चों के लिए उपयोगी

ऐसा माना जाता है कि रागी पाचन तंत्र को मजबूत करता है। बच्चों को मां का दूध छुड़ाकर कुछ खिलाने की प्रक्रिया के दौरान रागी पाउडर का उपयोग किया जाता है।

# त्वचा को रखें जवां

आप भी जवान और स्वस्थ रहना चाहते हैं तो रागी का सेवन आपको जरूर करना चाहिए क्योंकि इसमें मेथियोनीन और लाइसिन एमिनो एसिड पाए जाते हैं, जो त्वचा को झुर्रियों से बचाते हैं।

# शरीर को आराम पहुंचाएं

रागी के रोजाना सेवन से चिंता और तनाव से छुटकारा मिलता है। दरअसल इसमें एमिनो एसिड, एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो प्राकृतिक तरीके से आपको तनाव मुक्त रखते हैं।

# रागी के सेवन से नुकसान

रागी का सेवन अधिक मात्रा में न करें क्योंकि इससे शरीर में अधिक मात्रा में ओक्सालिक एसिड (oxalic acid) का संचार होता है जो सेहत के लिए अच्छा नहीं है।

# ज्यादा सेवन से सावधान

ज्यादा रागी खाने से किडनी में पथरी वाले मरीजों को नुकसान हो सकता है। साथ ही कब्ज, डायरिया, पेट में गैस, पेट फूलने जैसी शिकायतें हो सकती हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट herzindagi.com के साथ।