ये हैं भारत के टॉप वाइल्ड लाइफ सेंचुरी


Smriti Kiran
www.herzindagi.com

    भारत में जीवों की अलग-अलग प्रकार की प्रजातियां पाई जाती हैं। इन जीवों के संरक्षण के लिए वाइल्ड लाइफ सेंचुरी और नेशनल पार्क का निर्माण किया गया है। आइए इनके बारे में जानते हैं।

जिम कार्बेट नेशनल पार्क

    भारत के सबसे पुराने राष्ट्रीय उद्यानों में जिम कार्बेट नेशनल पार्क भी शामिल है। इस पार्क को 1936 में बंगाल टाइगर्स को बचाने के लिए बनाया गया।

जिम कार्बेट नेशनल पार्क, उत्तराखंड

    जिम कार्बेट पार्क उत्तराखंड के नैनीताल जिले में स्थित है। यहां शेर, हाथी, भालू, बाघ, सुअर, हिरण, चीतल, नीलगाय और चीता समेत कई अन्य वन्य प्राणी बड़ी संख्या में रहते हैं।

काजीरंगा नेशनल पार्क

    असम के गोलाघाट और नागांव जिले में स्थित काजीरंगा नेशनल पार्क देश के फेमस उद्यानों में से एक है। इसे यूनेस्को की ओर से विश्व विरासत सूची में शामिल किया गया है।

काजीरंगा पार्क

    काजीरंगा पार्क को दुनिया का पहला ऐसा पहला नेशनल पार्क माना गया है, जहां एक सींग वाले गैंडों की संख्या दो तिहाई से ज्यादा है।

गिर नेशनल पार्क

    गिर नेशनल पार्क गुजरात में स्थित है। इसे एशिया के सबसे संरक्षित क्षेत्रों में से एक माना गया है। यहां बड़ी संख्या में एशियाटिक शेर पाए जाते हैं।

जवाई लेपर्ड रिजर्व

    राजस्थान में मौजूद जवाई लेपर्ड रिजर्व के लिए खासा मशहूर है। यह भारत की उन सेंचुरी में से एक है, जहां तेंदुए पहाड़ों के अंदर बनी गुफाओं में रहते हैं।

रणथम्भौर नेशनल पार्क, राजस्थान

    रणथम्भौर नेशनल पार्क उत्तर भारत के बड़े उद्यानों में से एक है। यह राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले में स्थित है। जो उदयपुर से 130 किमी दूर है।

रणथम्भौर नेशनल पार्क

    रणथम्भौर पार्क में मौजूद बंगाल टाइगर्स की वजह से देश ही नहीं दुनियाभर के टूरिस्ट वाइल्डलाइफ सेंचुरी में घूमने के लिए आते हैं।

कान्हा नेशनल पार्क, मध्य प्रदेश

    कान्हा नेशनल पार्क मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा वन्य जीव अभ्यारण्य है। इसे कान्हा-किल्सी नेशनल पार्क भी कहा जाता है। इसकी स्थापना 1955 में हुई थी और 1973 में यह टाइगर रिजर्व बनाया गया।

सुंदरवन नेशनल पार्क

    यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज साइट सुंदरवन को कई नामों से जाना जाता है। इसे रामसर, बायोस्फियर रिजर्व और नेशनल पार्क भी कहा जाता है।

बांदीपुर नेशनल पार्क

    कर्नाटक में स्थित बांदीपुर नेशनल पार्क को 1974 में टाइगर रिजर्व के रूप में स्थापित किया गया। यहां हाथियों की संख्या ज्यादा है। यह दक्षिण भारत का सबसे बड़ा संरक्षित क्षेत्र है।

पेरियार राष्ट्रीय अभयारण्य

    पेरियार राष्ट्रीय उद्यान साउथ इंडिया के केरल के इडुक्की और पथनामथिट्टा जिलों में स्थित है। इसे हाथी और टाइगर रिजर्व माना जाता है।

पेंच नेशनल पार्क

    पेंच नेशनल पार्क मध्य प्रदेश के सिवनी और छिंदवाड़ा जिलों में स्थित है। इस स्थान को शेरों के लिए माना जाता है, लेकिन यहां भालू और पक्षियों की कई प्रजातियां भी मौजूद हैं।

पीलीभीत टाइगर रिजर्व

    पीलीभीत टाइगर रिजर्व उत्तर प्रदेश के पीलीभीत और शाहजहांपुर जिले में स्थित है। इसे 2014 में टाइगर रिजर्व घोषित किया गया। यह देश के 51 प्रोजेक्ट टाइगर रिजर्व में से एक है।

दुधवा नेशनल पार्क

    दुधवा नेशनल पार्क यूपी के लखीमपुर जिले में स्थित है। इसे 1958 में वन्यजीव अभयारण्य के रूप में स्थापित किया गया था और 1977 में यह राष्ट्रीय उद्यान बन गया था।

    स्टोरी अच्छी लगी तो इसे लाइक और शेयर जरूर करें। साथ ही ऐसी अन्य स्टोरी जानने के लिए क्लिक करें herzindagi.com