महिलाओं ने बनवाए ये ऐतिहासिक इमारतें

By Smriti Kiran
26 October 2021
www.herzindagi.com

भारतीय राजाओं नें बहुत सारे स्मारक बनवाए, जो काफी फेमस हैं। लेकिन कई ऐसे स्मारक भी हैं जिनका निर्माण महिलाओं ने करवाया है।

भारत में कई ऐसी महिलाएं भी रही हैं, जिन्होंने अपने बलबूते कई यादगार स्मारक बनवाए हैं। आइए इन स्मारकों के बारे में जानते हैं।

# रानी की वाव

यह दुनिया की सबसे खूबसूरत बावलियों में से एक है। इसे रानी उदयमति ने अपने पति राजा भीमदेव की याद में बनवाया था।

# एत्माद उद दौला आगरा

यह मकबरा नूरजंहाँ ने अपने पिता मिर्जा गियास बेग को श्रद्धांजलि देने हेतु यमुना के किनारे पर बनवाया था। यह भारतीय इतिहास में निर्मित संगमरमर का पहला मकबरा है।

# विरुपाक्ष मंदिर हम्पी

कर्नाटक के हम्पी में स्थित यह मंदिर को 740 ई.पू. में रानी लोकमहादेवी ने अपने पति राजा विक्रमादित्य द्वितीय की पल्लव शासकों पर विजय के उपलक्ष्य में निर्माण कराया था।

# हुमायूं का मकबरा

दिल्ली में स्थित यह मकबरा हुमायूं की बेगम, हामिद बानो बेगम ने बनवाया था। लाल बलुई पत्थरों से बना यह पहला ऐसा मकबरा है, जिसमें पारसी गुम्बद का प्रयोग किया गया।

# ख्यार अल-मंजिल

दिल्ली में स्थित पुराने किले के बिल्कुल सामने निर्मित यह इमारत का निर्माण 1561 में अकबर की सबसे शक्तिशाली परिचारिका माहम अंगा द्वारा करवाया गया था।

# मीरजान किला

अग्नाशिनी नदी के किनारे स्थित यह किला ऊंचे रक्षा बुर्जों तथा द्वि-स्तरीय ऊंची दीवारों से घिरा हुआ है। गेरसोप्पा की रानी चेन्नाभैरा देवी ने इस किले का निर्माण करवाया था।

# लाल दरवाजा मस्जिद

सन्त सैय्यद अली दाऊद कुतुबुद्दीन को समर्पित यह मस्जिद को 1447 में जौनपुर के सुल्तान महमूद शरकी की बेगम राजई बीबी ने निर्मित कराया था।

# मोहिनिश्वरा शिवालय मन्दिर

कश्मीर के गुलमर्ग में स्थित यह मंदिर राजा हरि सिंह की पत्नी महारानी मोहिनी बाई सिसोदिया ने 1915 ई. में करवाया था। इसका नाम महारानी के नाम पर ही मोहिनीश्वर शिवालय पड़ा।

# माहिम कॅासवे मुंबई

इसका निर्माण 1843 में मशहूर पारसी व्यापारी जमशेदजी जीजीभाय की पत्नी लेडी अवाबाई जमशेदजी ने करवाया था। यह आज भी मुंबई के लोगों के लिए जीवन रेखा का काम करता है।

# स्मारकों को देखने जरूर जाएं

ये रहे भारत के कुछ फेमस ऐतिहासिक स्मारक, जिन्हें देख कर आपको भारतीय महिलाओं पर गर्व होगा।

स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर करें और साथ ही ऐसी अन्य स्टोरी जानने के लिए क्लिक करें herzindagi.com