हर्षिल- भारत का स्विट्जरलैंड


Smriti Kiran
www.herzindagi.com

    हर्षिल भारत के उत्तराखंड राज्य के उत्तरकाशी जिले में स्थित बहुत ही खूबसूरत पर्यटन स्थल है। हिमालय की तराई में बसा यह जगह बेहद आकर्षक है।

    इसे हर्षिल वैली के नाम में भी जाता है। हर साल यहां हजारों सैलानी घूमने के लिए आते हैं तो आइए जानते हैं यहां के कुछ प्रमुख पर्यटन स्थलों के बारे में-

हर्षिल का इतिहास

    हर्षिल की खोज ईस्ट इंडिया कंपनी में काम करनेवाले अंग्रेज फेड्रिक विल्सन ने की थी। ये एक पहाड़ी लड़की से शादी कर यहीं बस गए थे। विल्सन ने ही हर्षिल को स्विट्जरलैंड की उपाधि दी थी।

हर्षिल की खासियत

    यहां की हिमाच्छादित पर्वत, झरनें, दूर तक फैले देवदार और चिनार के घने जंगल व सांप-सी बलखाती हुई बेहतरीन सड़कें आपका मन मोह लेगी।

मुखवास ग्राम

    मुखवास को गंगा जी का घर माना जाता है। यह हर्षिल से 1 किलामीटर दूरी पर स्थित एक बेहद सुंदर गांव है। यहां आप बर्फबारी के लुत्फ के साथ ट्रैकिंग का भी मजा ले सकते हैं।

सत्तल

    हर्षिल से कुछ ही दूरी पर सत्तल नामक जगह है, जहां पर सात झीलों का समूह है। इन झीलों को लोग पन्ना, नलदमयंती ताल, राम, सीता, लक्ष्मण, भरत सुक्खा ताल और ओक्स के नाम से जानते हैं।

गंगनानी

    इस जगह को गंगा जी के नानी का घर माना जाता है। साल में एक बार गंगा जी यहां आती हैं। यहां पर स्थित गर्मपानी कुंड में पर्यटक स्नान जरूर करते हैं।

धराली

    हर्षिल से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित धराली एक छोटा सा गांव, जो खूबसूरती के मामले में अद्भुत है। इस गांव के बगल में मौजूद भागीरथ नदी सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र है।

बगोरी गांव

    बगोरी गावं को सेब का भंडार कहा जाता है। अगर आपको घूमने के साथ-साथ मीठे सेब का आनंद लेना है तो बगोरी गांव जरूर जाएं।

बर्डवॉचर्स के लिए बेस्ट

    हर्षिल के घने जंगलों में लगभग 500 से भी अधिक पक्षियों की प्रजातियां मौजूद हैं। अगर आप घूमने के साथ बर्डवॉचर्स भी है, तो हर्षिल घूमने जरूर पहुंचें।

उत्तरकाशी मेला

    हर्षिल में मौजूद झील में आप नौका विहार का आनंद उठा सकते हैं। यहीं नहीं, हर्षिल में हर साल उत्तरकाशी मेला लगता है, जिसमें स्थानीय संस्कृति का अनोखा संगम देखने को मिलता है।

कैसे पहुंचें हर्षिल

    हवाई मार्ग से जाने के लिए निकटतम हवाई अड्डा जॉली ग्रांट हवाई अड्डा है। यहां से आप लोकल टैक्सी लेकर जा सकते हैं। ट्रेन से ऋषिकेश रेलवे स्टेशन जाएं और फिर लोकल बस या टैक्सी से हर्षिल पहुंचे।

    घूमने के साथ-साथ प्रकृति की खूबसूरती का मजा लेना चाहते हैं तो एक बार उत्तराखंड के हिल स्टेशन हर्षिल घूमने जरूर जाएं।

    स्टोरी अच्छी लगी हो तो शेयर करें। साथ ही ट्रैवल से रिलेटेड ऐसी अन्य स्टोरी जानने के लिए क्लिक करें herzindagi.com