मध्य प्रदेश की शान हैं ये प्राचीन किले

By Bhagya Shri Singh
23 September 2021
www.herzindagi.com

भारत के मध्य प्रदेश में एक नहीं बल्कि ऐसे कई फोर्ट्स हैं, जो सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विश्व मंच पर भी बेहद प्रसिद्ध हैं। जानें इन मशहूर किलों के बारे में।

# ग्वालियर का किला

ग्वालियर के किले का निर्माण 8 वीं शताब्दी में हुआ था। इसे इंडिया का का जिब्राल्टर भी कहा जाता है। यह किला 'गोपाचल' नामक पर्वत पर स्थित है। इस किले में आप सुबह 10 बजे लेकर शाम 5:30 के बीच कभी भी घूम सकते हैं।

# कैसा है किला

लाल बलुए पत्थर से बना ये किला काफी विशाल और खूबसूरत है। ये किला राजा मानसिंह और रानी मृगनयनी के अमर प्रेम, कई युद्धों का भी गवाह है। किले में दुर्लभ प्राचीन मूर्तियां भी हैं।

# अहिल्या फोर्ट

अहिल्या फोर्ट मध्य प्रदेश के महेश्वर में स्थित है। यह किला 250 साल पुराना है और ऐतिहासिक दृष्टी से बेहद महत्वपूर्ण है।

# होटल में तब्दील

अब इस प्राचीन किले को लग्जरी होटल में तब्दील कर दिया गया है। बता दें कि यह किला 1766 और 1795 के दौरान मराठा रानी अहिल्याबाई की राजधानी था।

# रायसेन फोर्ट

एक पहाड़ी के ऊपर मौजूद रायसेन का किला 800 साल पुराना है और ये एक पहाड़ी के ऊपर बना है। कहा जाता है कि इस फोर्ट में लगभग नौ प्रवेश द्वार थे लेकिन, वक्त के साथ और देखभाल के अभाव में ये खंडहर में तब्दील हो चुके हैं।

# इस समय आएं

पहाड़ी पर मौजूद रायसेन फोर्ट मध्य प्रदेश में प्रमुख पर्यटक स्थलों में से एक है। यहां आप सुबह 10 बजे से लेकर शाम 5 बजे के बीच कभी भी आ सकते हैं।

# ओरछा किला

ओरछा का प्रसिद्ध किला झांसी से लगभग 16 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद है। यह किला बेतवा नदी के किनारे बना है इसलिए इसकी खूबसूरती देखते ही बनती है।

# किले का आकर्षण

इस किले में शीश महल, फूल बाग, राय प्रवीण महल बेहद खूबसूरत ढंग से बनाए गए हैं। यह किला 16वीं शताब्दी में बुंदेला राजवंश के राजा रुद्र प्रताप सिंह द्वारा बनवाया गया था।

# असीरगढ़ फोर्ट

असीरगढ़ फोर्ट सतपुड़ा पर्वतमाला में स्थित है। इस किले को अहीर शासक आसा अहीर के द्वारा बनवाया गया था। यह भी मध्य प्रदेश के फेमस किलों में से एक है।

# किले की ख़ास बात

कहा जाता है कि किले का अलग-अलग हिस्सा अलग-अलग युग में बना है। ये किला जंगलों और हरियाली के बीच में है। सुबह 10 बजे से लेकर शाम 5 बजे के बीच यहां घूमने जा सकते हैं।

# चंदेरी किला

यह किला 71 मीटर की पहाड़ी पर मौजूद है। यह किला भी बेतवा नदी के किनारे है। इस किले का जिक्र महाभारत के महाकाव्य में भी हुआ है।यहीं खूनी दरवाजा मौजूद है। यहां गुनाहगारों को फांसी की सजा दी जाती थी।

# मांडू फोर्ट

मांडू फोर्ट मध्य प्रदेश के धार जिले में मांडव क्षेत्र में है। इस किले में जहाज महल और मांडू महल हैं। कहा जाता है कि यह किला बाज बहादुर और रानी रूपमती के अमर प्रेम का प्रतीक है।

घुमक्कड़ी का शौक है तो जरूर घूमें मध्य प्रदेश के ये मशहूर किले। अगर स्टोरी अच्छी लगे तो इसे लाइक और शेयर जरूर करे। फैशन से जुड़ी ऐसी अन्य स्टोरी जानने के लिए जुड़ी रहें herzindagi.com से।