बरमूडा ट्रायंगल का रहस्य

By Bhagya Shri Singh 26 August 2021 www.herzindagi.com

दुनिया कई रहस्यों की खदान है। ऐसा ही रहस्यमय है बरमूडा ट्रायंगल। दशकों से ये वैज्ञानिकों और सामान्य लोगों ने लिए मिस्ट्री बना हुआ। इसके पीछे कई लॉजिक और कई अटकलें लगाई जा चुकी हैं।

# यहां अचानक गायब होते हैं जहाज

दशकों से आज तक अटलांटिक महासागर का बरमूडा ट्रायंगल लोगों के लिए रहस्य बना हुआ है। यहां कोई समुद्री जहाज या हवाई जहाज पहुंच जाए तो रहस्यमयी तरीके से गायब हो जाता है।

# बरमूडा ट्रायंगल के बारे में रोचक बातें

हजारों जहाज आज तक बरमूडा से वापस नहीं आए हैं जिस कारण इस जगह जाने से हर किसी को डर लगता है लेकिन आखिरकार ऐसा क्या है जो इसकी वजह है? जानें बरमूडा ट्रायंगल के बारे में रोचक बातें।

# शैतान त्रिभुज

  • बरमूडा त्रिभुज को ‘शैतान त्रिभुज’ के नाम से भी जाना जाता है।
  • उत्तरी अटलांटिक का ये क्षेत्र मियामी, बर्मुडा और प्यूर्टो रिको से घिरा है।

# कोलंबस ने देखा था सबसे पहले

  • क्रिस्टोफर कोलंबस ने सबसे पहले बरमूडा ट्रायंगल के बारे में जानकारी दी थी।
  • कोलंबस ने अपने कई लेखों में इस रहस्यमय ट्रायंगल का जिक्र किया है।
  • जैसे ही कोलंबस का जहाज यहां से गुजरा कम्पास ने दिशा बतानी बंद कर दी।
  • तभी आसमान से रहस्यमयी आग का गोला आकर सीधे समुद्र में गिर गया।

# शक्तिशाली चुम्बकीय क्षेत्र

  • कई शोधकर्ताओं ने इसके बारे में अलग-अलग लॉजिक दिए हैं।
  • उनका कहना है कि समुद्र के इस भाग में एक शक्तिशाली चुम्बकीय क्षेत्र है।
  • इसी कारण जहाजों में लगे उपकरण काम करना बंद कर देते हैं।
  • यही वजह है की जहाज भटक कर दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं।

# बादलों का हेक्सागोनल शेप

  • वैज्ञानिकों का कहना है कि बादलों का हेक्सागोनल शेप के कारण ये होता है।
  • यह बादल ‘एयर बम’ बनाते हैं। यानी हवा में बम ब्लास्ट जैसी ताकत पैदा करते हैं।
  • साथ ही यहां करीब 273 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार वाली हवाएं चलती हैं।
  • ये बादल और हवाएं जब जहाज या एरोप्लेन से टकराते हैं तो उन्हें समुद्र में खींच लेते हैं।

# शक्तिशाली समुद्री तरंगों का कारण

  • बरमूडा ट्रायंगल पर बनने वाला फोर्स समुद्र के पानी से टकराता है।
  • इससे सुनामी से भी ज्यादा ऊंची लहरें पैदा होती हैं।
  • ये लहरें आपस में टकराकर और ज्यादा एनर्जी पैदा करती हैं।
  • इस दौरान इनके आसपास मौजूद हर चीज समुद्र में चली जाती है।

# मौसम है जिम्मेदार

  • कई वैज्ञानिकों ने बरमूडा ट्रायंगल के मौसम को गायब जहाजों का जिम्मेदार माना है।
  • उनका कहना है कि ट्रायंगल के ऊपर 170 मील/घंटे की स्पीड से तेज हवाएं चलती हैं।
  • ऐसे में जहाज या एयरक्राफ्ट संतुलन खो बैठता है और एक्सीडेंट हो जाता है।

# 2000 जहाज और 75 एयरक्राफ्ट हुए गायब

  • बरमूडा ट्रायंगल में गायब जहाजों के बारे में कोई पुख्ता जानकारी नहीं है।
  • बताया जाता है कि यहां 2000 जलपोत और 75 हवाई जहाज गायब हो चुके हैं।

# बरमूडा ट्रायंगल कहां है

  • बरमूडा ट्रायंगल नार्थ अटलांटिक महासागर में ब्रिटेन का प्रवासी क्षेत्र है।
  • यह यूएसए के पूर्वी तट पर मियामी (फ्लोरिडा) से महज 1770 किलोमीटर दूर है।

# फ्लोरिडा, प्यूर्टोरिको और बरमूडा को जोड़ता है

  • बरमूडा ट्रायंगल तीन समुद्र तटों को एकसाथ जोड़कर बनता है।
  • ये अमेरिका के फ्लोरिडा, प्यूर्टोरिको और बरमूडा का त्रिकोण है।

# बरमूडा से वापस आया जहाज

  • खबरों के मुताबिक़ कुछ सालों पहले यहां एक करिश्मा भी हुआ।
  • 90 साल पुराना शिप Cotopaxi बरमूडा ट्रायंगल से वापस आया।
  • इसे 16 मई को पश्चिमी हवाना के प्रतिबंधित सैन्य क्षेत्र में देखा था
  • हालांकि जहाज पर कोई नहीं था। लेकिन कैप्टन की लॉग बुक से कई जानकारियां मिली।
  • इसमें जहाज़ की कहानी है, लेकिन 1 दिसम्बर 1925 को अचानक इसकी कहानी रूक गई है।

बरमूडा ट्रायंगल के बारे में रोचक जानकारियों से भरा ये आर्टिकल आपको पसंद आया तो इसे लाइक और शेयर करें। ऐसे ही आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़े रहें herzindagi.com से।