1 हजार साल पुराने इन मंदिरों की चमक आज भी है बरकरार


Smriti Kiran
2023-01-01,08:26 IST
www.herzindagi.com

    भारत अपनी संस्कृति व धार्मिक विरासत के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है। आइए जानते हैं यहां स्थित हजारों साल पुराने कुछ मंदिरों के बारे में, जिनकी खूबसूरती आज भी देखने लायक है।

श्री रंगनाथ स्वामी मंदिर

    तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली में स्थित श्री रंगनाथ स्वामी मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है। छठी से नौवीं शताब्दी के बीच बना यह मंदिर दुनिया के सबसे विशाल मंदिरों में से एक है।

बद्रीनाथ मंदिर

    चारों धामों में विख्यात उत्तराखंड के बद्रीनाथ में स्थित बद्रीनाथ मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है। इस मंदिर का निर्माण 8वीं शताब्दी के आसपास का माना जाता है।

बृहदेश्वर मंदिर

    तमिलनाडु के तंजावुर में स्थित बृहदेश्वर मंदिर महान चोल शासक राजराज चोल द्वारा बनवाया गया था। भगवान शिव को समर्पित यह मंदिर द्रविड़ वास्तुकला का अद्भुत नमूना है।

सोमनाथ मंदिर

    भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंगों में शामिल सोमनाथ मंदिर 7वीं शताब्दी में बनवाया गया था। आज भी इसकी भव्यता को देखकर आप मंत्रमुग्ध हो जाएंगे।

कैलाश मंदिर

    महाराष्ट्र के एलोरा में स्थित कैलाश मंदिर अपने आकार, वास्तुकला और मूर्तियों को लेकर पूरी दुनिया में मशहूर है। पर्वत को काटकर बनाया गया यह मंदिर अति प्रचीन है।

विरुपाक्ष मंदिर

    कर्नाटक के हम्पी में स्थित विरुपाक्ष मंदिर यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शामिल है। भगवान विष्णु को समर्पित यह मंदिर 7वीं शताब्दी में बनवाया गया था।

अंबरनाथ मंदिर

    मुबंई में स्थित यह मंदिर को महाभारत काल में पांडवों ने एक ही पत्थर से बनाया था। 11वीं सदी का ये ऐतिहासिक हिंदू मंदिर वडवन नदी के किनारे स्थित है।

    आप भी इन मंदिरों का दर्शन करने जाएं। स्टोरी अच्छी लगी हो तो शेयर करें। ट्रैवल से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए पढ़ते रहें herzindagi.com